हिंदू धर्म में ग्रहण की घटना को बेहद अहम माना जाता है। चंद्रग्रहण हमेशा पूर्णिमा तिथि को लगता है। साल का पहला चंद्रग्रहण 16 मई को लगने जा रहे हैं, यह पूर्ण चंद्रग्रहण होगा। इस दिन दो शुभ योग बनने से इस दिन का महत्व बढ़ रहा है। इस दिन वैशाख मास की पूर्णिमा भी है। इस दिन पवित्र नदियों में स्नान व दान करने का विशेष महत्व होता है।

यह भी पढ़े : Weekly Horoscope : ये सप्ताह इन राशि वालों के लिए बेहद शुभ रहेगा, कन्या और कुंभ राशि में धन प्राप्ति के योग


ग्रहण को नहीं माना जाता शुभ-

मान्यता है कि ग्रहण के दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है। ग्रहण काल में मंदिर के कपाट भी बंद कर दिए जाते हैं। हालांकि साल के पहले सूर्यग्रहण की तरह साल का पहला चंद्रग्रहण भी भारत में नजर नहीं आएगा। जिसके चलते देश में सूतक काल मान्य नहीं होगा। यह ग्रहण तीन राशि वालों के लिए लाभकारी साबित होगा।

यह भी पढ़े : मेक इन इंडिया का दम, 180 Kmph की रफ्तार से दौड़ेगी देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन


चंद्रग्रहण पर बन रहे ये खास योग-

हिंदू पंचांग के अनुसार, साल का पहला चंद्रग्रहण 16 मई को लगेगा। इस दिन सुबह 06 बजकर 16 मिनट तक वरियान योग रहेगा। मान्यता है कि इस योग में किया गया कार्य सफल होता है। 16 मई की सुबह से अगले दिन रात करीब ढाई बजे तक परिघ योग रहेगा। इस योग में शत्रुओं पर विजय प्राप्त होने की मान्यता है।

यह भी पढ़े : 15 मई की सुबह 4.50 बजे सूर्यदेव वृष राशि में प्रवेश करेंगे, जानें सूर्य गोचर का आपके जीवन पर क्या पड़ेगा असर


इन राशि वालों के लिए ग्रहण शुभ-

1. मेष- मेष राशि वालों को चंद्रग्रहण के दौरान आर्थिक लाभ हो सकता है। करियर में सफलता हासिल हो सकती है। नौकरी पेशा करने वाले जातकों के लिए समय अनुकूल है। जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा।

2. सिंह- सिंह राशि वालों के लिए चंद्रग्रहण शुभ रहने वाला है। इस दौरान आपको नौकरी में तरक्की व इंक्रीमेंट मिल सकता है। आय के नए साधन बनेंगे। अविवाहितों को विवाह प्रस्ताव आ सकता है।

3. धनु- धनु राशि वालों के लिए चंद्रग्रहण शुभ माना जा रहा है। इस दौरान तरक्की के नए मार्ग खुलेंगे। व्यापारियों को मुनाफा होगा। नई नौकरी का प्रस्ताव आ सकता है। कार्यक्षेत्र में परिवर्तन संभव है।