ग्रहों पर आधारित

इसके लिए सबसे पहले यह देखें कि जिस ग्रह की महादशा चल रही है, वह कुंडली में किस स्थान पर स्थित है। वह कौनसे घर का मालिक है।

यह भी पढ़े : Aaj ka Rashifal June 22 : इन राशि वालों को व्यापार में होगा लाभ ही लाभ , शत्रु भी मित्रता जैसा व्यवहार करेंगे , जानिए राशिफल


ऐसे समझें

मान लीजिए किसी कुंडली में शनि की महादशा है और वह उस समय नीच का है। शनि की महादशा 19 साल होती है। इस स्थिति में इस ग्रह की प्रकृति के अनुसार उसे शांत करें।

यह भी पढ़े : Numerology Horoscope: 22 जून को इन तारीखों में जन्मे लोगों को मिलेगा मान-सम्मान , धन में होगी वृद्धि


मेहनत का फल

शनि की महादशा में भी मेहनत का फल मिलता है। यानी कोई व्यक्ति जितनी मेहनत करता है, उसे उसका उतना ही फल मिल जाता है। हालांकि इसके लिए किसी अच्छे ज्योतिषी को अपनी कुंडली जरूर दिखाएं।

गुरु के लिए

गुरु की महादशा हो तो इसके प्रभाव अलग होते हैं। अपने काम पर ध्यान दें और नैतिक रूप से ईमानदार रहें। दान-पुण्य करें और खुद को गलत राह पर न जाने दें। किसी तरह के अंधविश्वास में न पड़े और दूसरों की मदद करें।

यह भी पढ़े : Shani Rashi Parivartan : जुलाई में शनिदेव जाएंगे मकर राशि में , इन राशियों की बढ़ेगी टेंशन


सामान्य रहें

ग्रहों की दशा या महादशा के दौरान किसी भी तरह से खुद को कमजोर न पडऩे दें। मजबूत रहें और अपने काम पर ध्यान दें। किसी की बातों में आकर डरें नहीं और सामान्य रहें। इसके अलावा खुद को अपने ईष्ट से जोड़े रहें और उनकी आराधना में समय बिताएं। सकारात्मकता लाएं।

संदीप कोचर

सेलेब एस्ट्रोलॉजर, मुंबई

https://www.sundeepkochar.com/