पैसा हर व्यक्ति के लिए बहुत जरूरी होता है। यह जीवन के लिए बहुत ही ज़्यादा महत्वपूर्ण हो गया है। आज बिना रुपए-पैसे के कोई भी काम सम्भव नहीं है। इसी वजह से आज के समय में हर कोई इसके पीछे भागता है। हर कोई पैसा-पैसा करता रहता है। कई लोग धन दौलत पाने के लिए देवी-देवताओं की शरण में भी जाते हैं। इससे कुछ लोगों को फ़ायदा भी होता है और कुछ को नहीं होता है।

सावन के महीने में एक ख़ास पर्व होता है नागपंचमी का। इस दिन नाग देवता की पूजा की जाती है। इस बार नागपंचमी 15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस के दिन पड़ रही है। ज्योतिष के मुताबिक हिंदी पंचांग से इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग बन रहा है, जो बहुत ही शुभ माना जाता है। इस योग के बारे में कहा जाता है कि इस समय अगर कोई नया काम शुरू किया जाता है तो उसमें अवश्य सफलता मिलती है। 

नागपंचमी के पर्व को हिंदू धर्म में बहुत महत्व दिया गया है। नागपंचमी के दिन किए जानें वाले कुछ उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आपका जीवन हमेशा के लिए बदल जाएगा तो इसके लिए कुछ उपाय करें- 

चाँदी का छोटा नाग-नागिन का जोड़ा ख़रीदकर घर लाएँ। अब इसे किसी नज़दीकी शिवमंदिर जाकर शिवलिंग पर चढ़ा दें। इस उपाय से कालसर्प दोष दूर हो जाता है।

नागपंचमी के दिन नाग देवता की पूजा की जाती है। इसलिए इस दिन नाग देवता की विशेष पूजा करें। इससे आपके जीवन में ख़ुशियों की बारिश होने लगेगी।

जिन लोगों की कुंडली में शनि, राहु-केतु से जुड़े दोष हैं वो लोग जल में काला तिल मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाएँ।

ॐ सांब सदा शिवाय नमः मंत्र का जाप करें। कहा जाता है कि इस एक उपाय से शनि की साढ़े साती और ढैय्या और कालसर्प दोष से मुक्ति मिल जाती है।

शिवलिंग के समक्ष बैठकर घी का दीपक जलाएं और बाद में 108 बार महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें।

भगवान शिव के साथ ही उनके परिवार की भी पूजा करें। इसमें माता पार्वती, श्री गणेश, कार्तिकेय और नंदी जी की पूजा करें। माना जाता है कि सभी की पूजा एक साथ करने से सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है।