असम (Assam) के कलियाबोर में हुई एक दिलदहलाने वाली घटना ने पुलिस को हिलाकर रख दिया है। घटना में 7 साल के नाबालिग को 3 किशोरों ने कथित तौर पर पोर्न (porn) देखने से इनकार करने पर मार डाला है। नागांव पुलिस ने तीनों नाबालिगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने एक वयस्क को भी गिरफ्तार किया है जो अपराध के संबंध में एक किशोर का माता-पिता है।


जांच में पता चला है कि किशोर 8-11 साल की उम्र के बीच पोर्न एडिक्ट (porn addicts) थे। इसके अलावा, यह पता चला कि किशोर भयानक काम की साजिश रचने और करने में बहुत सक्षम हैं। सूत्रों के अनुसार, किशोर काफी समय से पोर्न (porn) देख रहे थे और उन्हें इसकी लत लग गई थी। साथ ही वे मृतक नाबालिग के घर के काफी करीब रहते थे।

चारों आरोपियों को नगांव पुलिस अधीक्षक आनंद मिश्रा और कलियाबोर थाने के प्रभारी अधिकारी राजीव बरुआ के नेतृत्व में नगांव पुलिस की एक टीम ने गिरफ्तार किया है।

खबर की जानकारी नगांव पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर दी इन्होंने कहा कि "मिस्सा, कलियाबोर में 6 साल की बच्ची की दुर्भाग्यपूर्ण हत्या 24 घंटे के भीतर हल हो गई। 3 किशोर, 1 वयस्क गिरफ्तार। 8 से 11 वर्ष की आयु के आरोपी पोर्न एडिक्ट (porn addicts) हैं जो एक नृशंस अपराध की साजिश और भीषण निष्पादन में सक्षम हैं। ऐसा लगता है कि यह है आत्मनिरीक्षण और सामाजिक हस्तक्षेप का समय।"