केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने दरांग जिले में समारोह में हिस्सा लेते हु्ए 'सेवा समर्पण अभियान' के तहत यहां भाजपा असम के बूथ समिति कार्यकर्ताओं से बातचीत की है। फिर, सर्बानंद सोनोवाल ने ऐतिहासिक पाथारूघाट विद्रोह के स्मारक का दौरा किया। जहां 1894 में अंग्रेजों के खिलाफ भारत के पहले किसान विद्रोह में से शहीद किसानों की याद में एक पौधा लगाया।


सेवा समर्पण अभियान को जारी रखते हुए, केंद्रीय मंत्री ने असम के आध्यात्मिक और सांस्कृतिक केंद्र 450 साल पुराने खतरा सत्र में पूजा-अर्चना की और सभी के लिए आशीर्वाद मांगा है। केंद्रीय मंत्री ने सत्र में एक स्वच्छता अभियान में भी भाग लिया और बाद में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत की।

इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री ने प्रमुख नागरिकों, शिक्षाविद् संतराम सहरिया, योग शिक्षक दंडप्रताप सरमा, किसान ध्रुबज्योति सैकिया और ओजापाली कलाकार महेंद्र नाथ सरमा को सम्मानित किया. इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव दिलीप सैकिया, सिपाझार के विधायक डॉ परमानंद राजबोंगशी और पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे।