रेलवे ने बोकारो और गोमो होकर दिल्ली जानेवाली तीन जोड़ी स्पेशल ट्रेनों का एलान कर दिया है। इनमें दो ट्रेनें हटिया से खुलेंगी और एक बंगाल के सांतरागाछी स्टेशन से चलेगी। हालांकि तीनों ट्रेनों को फिलहाल सिर्फ जून तक ही चलाने की घोषणा हुई है। तीनों ट्रेनों को स्पेशल बनाकर चलाने की घोषणा के साथ ही नंबर भी बदल गए हैं। टाइम टेबल में भी फेरबदल किया गया है। इसके साथ ही झारखंड से असम को जोड़ने वाली इकलौती ट्रेन रांची-कामाख्या साप्ताहिक एक्सप्रेस को चलाने की भी घोषणा हो गई है। रांची-कामाख्या एक्सप्रेस अगले आदेश तक चलेगी।

सांतरागाछी से टाटानगर और गोमो आनंदविहार जानेवाली साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन 14 जून से चलेगी। सांतरागाछी से 14 से 28 जून तक हर सोमवार तथा आनंदविहार से 15 से 29 जून तक हर मंगलवार को चलेगी। रेलवे ने इस ट्रेन का नंबर और टाइम टेबल बदल दिया है। ठहराव में भी फेरबदल किए गए हैं। स्पेशल बनकर चलने वाली ट्रेन खानूडीह में नहीं रुकेगी। इस ट्रेन का ठहराव खड़गपुर, टाटानगर, पुरुलिया, गोमो, गया, पीडीडीयू, प्रयागराज, कानपुर और अलीगढ़ में होगा। 

हटिया से आनंदविहार के बीच 16 जून से स्पेशल ट्रेन चलेगी। बोकारो और गोमो होकर चलने वाली ट्रेन हटिया से 16 जून से 27 जून तक तथा वापसी में आनंदविहार से 17 जून से 28 जून तक चलेगी। हटिया से बुधवार, शुक्रवार और रविवार एवं आनंदविहार से सोमवार, गुरुवार व शनिवार चलेगी। 

रांची-कामाख्या साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन कामाख्या से 29 जून से चलेगी। रांची से इस ट्रेन को 30 जून से चलाने की घोषणा हुई है। इस ट्रेन के चलने से धनबाद और बोकारो के यात्रियों को असम की राजधानी गुवाहाटी समेत बिहार के किशनगंज और बंगाल के सिलीगुड़ी समेत आसपास के स्टेशनों तक पहुंचने को सीधी ट्रेन मिल जाएगी। कामाख्या से हर मंगलवार और रांची से बुधवार को चलेगी। रांची से चलने वाली ट्रेन का ठहराव मूरी, बोकारो, चंद्रपुरा, धनबाद, आसनसोल, रानीगंज, दुर्गापुर, अंडाल, सिउड़ी, सैंथिया, रामपुरहाट, पाकुड़, न्यू फरक्का, मालदा टाउन, बरसोई, किशनगंज, न्यू जलपाईगुड़ी, सिलीगुड़ी, न्यू मॉल, बिनागुड़ी, हासीमारा, अलीपुरद्वार, कोकराझार और न्यू बोंगाइगांव में होगा।

हटिया से बरकाकाना होकर आनंदविहार जानेवाली स्वर्ण जयंती एक्सप्रेस 15 जून से चलेगी। हटिया से 15 से 29 जून तक हर सोमवार, मंगलवार व गुरुवार तथा आनंदविहार से 16 से 30 जून तक प्रत्येक मंगलवार, बुधवार और शुक्रवार को चलाने की घोषणा हुई है।