असम में विपक्षी कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने मंगलवार को कहा कि पार्टी को इस हफ्ते अपना नया प्रदेश अध्यक्ष मिल जाएगा। मार्च-अप्रैल में हुए विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार की जिम्मेदारी लेते हुए करीब दो महीने पहले रिपुन बोरा ने इस पद से इस्तीफा दे दिया था। असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी (एपीसीसी) के महासचिव अपूर्ब कुमार भट्टाचार्जी से जब नये अध्यक्ष की घोषणा को लेकर देरी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनावों में दो बार हार का सामना करने के बाद पार्टी को एक “मुखर नेता” खोजने की जरूरत है।

भट्टाचार्जी ने कहा, “असम कांग्रेस के नये अध्यक्ष का नाम इस हफ्ते घोषित कर दिया जाएगा। केंद्रीय नेतृत्व इस मामले में फिलहाल पार्टी के पदाधिकारियों के विचार जान रहा है।” उन्होंने कहा कि कई नेता जिम्मेदारी लेने में सक्षम हैं, लेकिन पार्टी आला कमान सुनिश्चित करेगा कि सबसे “स्वीकार्य” प्रत्याशी को नियुक्त किया जाए।

भट्टाचार्जी ने कहा, “हम दूसरी बार लड़ाई (विधानसभा चुनाव) हारे हैं। हम अपने लक्ष्य तक नहीं पहुंच पाए। पार्टी अब इस वक्त एक मुखर नेता चाहती है। कई नेता हैं जो इस जिम्मेदारी को उठाने में सक्षम हैं।” उन्होंने कहा, “आला कमान सुनिश्चित करेगा कि सभी जरूरी पहलुओं पर विचार करने के बाद सबसे स्वीकृत प्रत्याशी को नियुक्त किया जाए।”

इस बीच, पार्टी में सूत्रों ने बताया कि प्रदेश इकाई के भीतर कई नामों पर चर्चा है लेकिन लोकसभा सदस्य प्रद्युत बारदोलोई और अखिल भारत कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के महासचिव भूपेन बोरा पद के लिए शीर्ष दो दावेदारों के तौर पर उभरे हैं।