असम के बागजन में तेल के एक कुएं को करीब पांच महीने बाद रविवार को सफलतापूर्वक बंद कर दिया गया और आग को पूरी तरह बुझा दिया गया। आयल इंडिया ने यह जानकारी दी। पूर्वोत्तर की इस बड़ी औद्योगिक तबाही में कंपनी के तीन कर्मचारियों की मौत हो गई थी और कई अन्य घायल हो गए थे।

कुएं की आग पर काबू पाने के लिए विदेशी विशेषज्ञों समेत कई दलों के लोगों की सहायता लेनी पड़ी।  आयल इंडिया लिमिटेड के प्रवक्ता त्रिदिव हजारिका ने एक वक्तव्य जारी करके कहा कि कुएं को बंद कर दिया गया है और अब वह नियंत्रण में है। आग को पूरी तरह बुझा दिया गया है।

उन्होंने कहा कि अब कुएं में कोई दबाव नहीं है और अगले चौबीस घंटे तक गैस के रिसाव और दबाव की जांच करने के लिए उसकी निगरानी की जाएगी। उन्होंने कहा कि सिंगापुर की एक कंपनी के विशेषज्ञ कुएं पर नियंत्रण के लिए अंतिम अभियान में सक्रिय तौर पर काम कर रहे हैं।