असम के कोकराझार जिले में पुलिस की गोलीबारी में एक संदिग्ध गांजा तस्कर घायल हो गया। आरोपी ने कथित तौर पर जवान का सर्विस हथियार छीनने और हिरासत से भागने की कोशिश की थी। कोकराझार के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरजीत सिंह पनेसर ने बताय कि सूचना मिली थी कि त्रिपुरा से बिहार की ओर आ रहे एक ट्रक में भारी मात्रा में गांजा भरा है। 

उन्होंने कहा कि पूरी तरह से तलाशी लेने पर पुलिस को ट्रक से लगभग 350 किलोग्राम वजन के 55 पैकेट गांजे मिले। हमने तुरंत वाहन के चालक और सहायक को गिरफ्तार कर लिया, दोनों त्रिपुरा के रहने वाले हैं। अधिकारी ने बताया कि जांच के दौरान चालक ने खुलासा किया कि उसने गांजे के दो और पैकेट राष्ट्रीय राजमार्ग-31सी से भाऊरागुड़ी की ओर विभाजित सडक़ के पास छिपाए थे। आरोपी को फिर गांजा के छुपाए गए पैकेट की बरामदगी के लिए मौके पर ले जाया गया। पुलिस टीम मौके पर पहुंची और दोनों पैकेटों को बरामद किया। अचानक आरोपी ने एक पुलिस अधिकारी की पिस्तौल छीन ली और उस पर गोली चला दी।

पनेसर ने कहा, कोई विकल्प नहीं बचा था, पुलिस ने आरोपी पर गोली चलाई। उसके दाहिने पैर में घुटने के नीचे गोली लगी और वह नीचे गिर गया। उन्होंने कहा कि आरोपी को तुरंत इलाज के लिए कोकराझार आरएनबी सिविल अस्पताल ले जाया गया और बाद में बारपेटा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में रेफर कर दिया गया। बता दें कि पिछले साल मई में मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के सत्ता में आने के बाद से कथित तौर पर हिरासत से भागने या कर्मियों पर हमला करने की कोशिश में पुलिस कार्रवाई में कुल 33 लोग मारे गए हैं और कम से कम 79 घायल हुए हैं।