असम में पेपर घोटाला का मामला अभी तक नहीं सुलझा है। इस घोटाले में शामिल कई लोग गिरफ्त में आ चुके हैं। रेलवे कर्मचारियों से लेकर पुलिस प्रशासन और राजनेता भी इसमें शामिल हैं। धीरे धीरे पुलिस इनको अपनी गिरफ्त में ले रही है और इस पूरे मामले की जांच कर रही है। लेकिन हाल ही में हैरान कर देने वाली खबर मिली है कि असम पुलिस प्रशासन ने पुलिस प्रशासन में फेरबदल किया है।

असम पुलिस में फेरबदल में, दो एसपी रैंक के पुलिस अधिकारियों को स्थानांतरित किया गया है और दो एएसपी रैंक के अधिकारियों को पदोन्नत किया गया है। बता दें कि पुलिस उपायुक्त, गुवाहाटी (यातायात), मयंक कुमार, को करीमगंज जिले के एसपी के रूप में स्थानांतरित और तैनात किया गया है। करीमगंज के एसपी कुमार संजीत कृष्ण को स्थानांतरित कर दिया गया है और वह बारपेटा जिले के एफआरआरओ के रूप में कार्यभार संभालेंगे।

सभी इस सोच में पड़े हैं कि आखिर पेपर लीक के घोटाले के बाद और इससे सुलाझाने से पहले ही पुलिस प्रशासन ने ऐसा क्यों किया। पुलिस प्रशासन ने ADCP, गुवाहाटी (यातायात) प्रणजीत बोरा को DCP, गुवाहाटी (यातायात) के रूप में पदोन्नत किया गया है, जबकि अपराध शाखा ADCP, नबनत महंत को पदोन्नत किया गया है और वे DCP, गुवाहाटी पश्चिम का पदभार संभालेंगे। अब देखना ये है कि पुलिस प्रशासन में कितना चोर छिपा है।