विधानसभा चुनाव के दौरान नकदी, शराब, ड्रग्स और अन्य वस्तुओं की जब्ती के मामले में असम ने अपने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और विभिन्न एजेंसियों ने अभी तक राज्य से 18 करोड़ रुपये कीमत का सामान जब्त किया है। साथ ही पिछले 11 दिनों में 100 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। एक अधिकारी ने बताया कि सबसे ज्यादा 5.72 करोड़ रुपये कीमत की जब्ती रविवार सुबह 9 बजे के बाद 24 घंटों के भीतर हुई है।

उन्होंने बताया कि 26 फरवरी को चुनावी अधिसूचना जारी होने के बाद असम ने सभी विधानसभा क्षेत्रों के लिए न्यूनतम तीन-तीन स्टैटिक सर्विलांस टीमों (एसएसटी) और उड़न दस्तों का गठन किया। कई क्षेत्रों में इनकी संख्या छह भी है। अधिकारी ने बताया, ‘‘राज्य भर में कम से कम 756 टीमें काम कर रही हैं। एसएसटी और उड़न दस्तों सहित राज्य और केन्द्रीय एजेंसियों द्वारा अभी तक की गई जब्ती पिछले सभी चुनावों का रिकॉर्ड तोड़ चुकी है।’’

असम निर्वाचन विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद से सोमवार तक एजेंसियों ने 18.31 करोड़ रुपये कीमत की जब्ती की है। रिपोर्ट के अनुसार, 4.27 करोड़ रुपय नकद, 5.52 करोड़ रुपये कीमत की शराब (3.58 लाख लीटर), चार करोड़ रुपये कीमत के मादक पदार्थ, एक करोड़ रुपये कीमत की महंगी धातु, जैसे सोना-चांदी और 3.52 करोड़ रुपये कीमत के अन्य सामान्य शामिल हैं।

आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद से विभिन्न टीमों ने 100 लोगों को अवैध शराब से जुड़े मामलों में और आठ लोगों को मादक पदार्थों से जुड़े मामले में गिरफ्तार किया है। पिछले 11 दिनों में सबसे ज्यादा 26 लोग कछार जिले से गिरफ्तार किए गए हैं जबकि गोआलपाड़ा से 16 और शिवसागर जिले से 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।