देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर अब हल्की हो गई है यानी संक्रमण दर पहले के मुकाबले काफी कम हो गई है। हालांकि कोरोना से होने वाली दैनिक मौतें अभी भी चिंता का विषय बनी हुई हैं। वहीं संक्रमण दर कम होने की वजह से दिल्ली, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों ने कोरोना पाबंदियों में ढील देनी शुरू कर दी है लेकिन पूरी तरह से बाजार अभी भी नहीं खुला है। बीते 24 घंटे में देश में कोरोना वायरस के 60 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए गए, वहीं 2726 मरीजों ने इस खतरनाक वायरस के आगे दम तोड़ा है।

मध्यप्रदेश में ग्वालियर के एक थोक दवा व्यापारी से कोविड-19 के इलाज में इस्तेमाल होने वाली फैवीमैक्स की नकली गोलियां जब्त की गई हैं। राज्य के औषधि विभाग को सूचना मिली थी कि ओडिशा के एक दवा आपूर्तिकर्ता ने ग्वालियर के एमके प्लाजा में स्थित थोक दवा कारोबारी को नकली फैविमैक्स सहित अन्य नकली दवाओं की आपूर्ति की है। जांच में पाया गया कि ओडिशा से अप्रैल में करीब 40 हजार फैविमैक्स की गोलियां भेजी गई थीं और इसमें से 35 हजार गोलियां ग्वालियर के कारोबारी ने बाजार में बेच दीं।

वृहद बंगलूरू महानगर पालिका (बीबीएमपी) ने बंगलूरू के केएसआर रेलवे स्टेशन पर एक कोरोना जांच शिविर लगाया है। बीबीएमपी ने कहा कि यहां बंगलूरू से बाहर से आने वाले लोगों की जांच की जा रही है। हम मैसेज के माध्यम से इस बात की पुष्टि कर रहे हैं कि पिछले 72 घंटों के दौरान उनकी जांच हुई है या नहीं। न होने की स्थिति में उनकी जांच यहां की जा रही है।

असम सरकार ने कहा है कि कोविड-19 के मद्देनजर राज्य में ग्रीष्मावकाश के बाद भी विद्यालय बंद रहेंगे। माध्यमिक शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव बी कल्याण चक्रवर्ती ने माध्यमिक एवं प्राथमिक शिक्षा निदेशकों, सभी विद्यालय निरीक्षकों एवं विभाग के अन्य अधिकारियों तथा सरकारी व निजी विद्यालायों के प्रमुखों को अगले आदेश तक या इन संस्थानों के खुलने तक के लिए ऑनलाइन कक्षाओं के आयोजन के लिए कदम उठाने को कहा है। सरकार ने कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के चलते निर्धारित समय से पहले ही 15 मई से 14 जून तक के लिए गर्मियों की छुट्टी कर दी थी।