असम में नई सरकार के गठन का मार्ग प्रशस्त करने के लिए मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और उनके मंत्रिपरिषद ने इस्तीफा दे दिया है। राजभवन के सूत्रों ने कहा कि मुख्यमंत्री सोनोवाल और उनके पूरे मंत्रिपरिषद ने असम के राज्यपाल जगदीश मुखी को दिसपुर में परिसर अपना इस्तीफा सौंप दिया है। अब असम में नई सरकार बनाई जाएगी। असम का मुख्यमंत्री कौन होगा इसके बारे में कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं।

विधायक दल के नेता का चयन करने की पूरी प्रक्रिया केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह की देखरेख में की जाएगी, जिन्हें केंद्रीय नेतृत्व द्वारा पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्त किया गया है। यह कयास लगाए जा रहे हैं कि कौन होगा अगले मुख्यमंत्री, असम के वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा, जिन्होंने भाजपा की जीत सुनिश्चित करने के लिए विधानसभा चुनावों से पहले एक आक्रामक अभियान किया, एक फ्रंट-रनर प्रतीत होते हैं और राज्य के अगले सीएम होने की संभावना है।

भाजपा ने 60 सीटें जीतीं जबकि उसके गठबंधन के साझेदार एजीपी और यूपीपीएल ने 126 सदस्यीय राज्य विधानसभा में नौ और छह सीटें हासिल की है। अब देखना यह है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन हो सकता है। ज्यादा कयास को हिमंता बिस्वा को लेकर ही लगाए जा रहे हैं लेकिन बैठक फैसला करेंगी की सीएम की कुर्सी पर कौन बैठेगा।