पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे (एनएफआर) के रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने असम के रंगिया स्टेशन से दो नाबालिग बच्चियों को बचाया है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। 

एनएफआर के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुभानन चंदा ने एक बयान में बताया कि आरपीएफ के एक कांस्टेबल ने सोमवार को देखा कि दो बच्चियां स्टेशन के प्रवेश द्वार के पास परेशान हैं। वह उन्हें थाने ले गए। 

बयान में कहा गया, “पूछताछ करने पर पाया गया कि दोनों की उम्र करीब 11 साल है और वह तमुलपुर थाना क्षेत्र के निवासी हैं। वे अपने माता-पिता की जानकारी के बिना घर से चली आई थीं।” 

चंदा ने कहा कि सभी जरूरी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद दोनों बच्चियों को कामरूप के ‘चाइल्ड लाइन’ के हवाले कर दिया गया। बयान में बताया गया है कि साल 2017 से 2020 तक आरपीएफ ने 105 बच्चों बचाया है।