कोकराझाड़ । बीटीसी में परिवर्तन के नारे के साथ यूपीपीएल के प्रमुख प्रमोद बोड़ो ने मंगलवार को बीटीसी स्वायत्तशासी परिषद के प्रमुख के रूप में शपथ ली। कोकराझाड़ के बोडोफा नगर स्थित ग्रीनफील्ड में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में राज्य के मुख्य सचिव जिष्णु बरुवा ने मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और नेडा संयोजक डॉ. हिमंत विश्व शर्मा की उपस्थिति में प्रमोद बोड़ो को शपथ दिलाई।

बीटीसी के चौथे प्रमुख के रूप में शपथ ग्रहण करने के बाद मौके पर उपस्थित बीटीसी की जनता को संबोधित करते हुए प्रमोद बोड़ो ने बीटीसी अंचल के सभी भी जाति जनगोष्टी, भाषा-भाषी के लिए सर्वागीण विकास और शांति के लिए काम करते रहने का भरोसा दिलाया। उन्होंने किसी के साथ भेदभाव न होने का आश्वासन देते हुए कहा कि हर नागरिक को समान अधिकार और मर्यादा दिलाने के साथ भूमि, राजनीतिक, सामाजिक, सांस्कृतिक आदि का अधिकार प्रदान किया जाएगा। इस मौके पर बीटीसी के नए प्रमुख ने बीटीआर समझौता के लिए प्रधानमंत्री, गृह मंत्री के साथ मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री डॉ.

हिमंत विश्व शर्मा के प्रति  जनता की ओर से आभार प्रकट किया।

उन्होंने कहा कि इस समझौते से बीटीसी की शांति और विकास का मार्ग प्रशस्त हुआ है। साथ ही जंगलों में रहकर संग्राम करने वाले एनडीएफबी के सदस्यों को अब अपने परिवार के साथ रहने का मौका मिला है। उन्होंने आशा जताई कि जिस तरह से प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के नेतृत्व में बोड़ो समस्या का समाधान

हुआ उसी प्रकार से आदिवासी उग्रवादियों की समस्या का भी समाधान संभव होगा।

प्रमोद बोड़ो ने बीटीसी की जनता से कहा, “मैं एक नेता की तरह नहीं, बल्कि एक बेटा बनकर आपका सेवक बनकर काम करना चाहता हूं।” उन्होंने कोकराझाड़ शहर को शांति का शहर बनाने का निश्चय करते हुए कहा कि एक समय था जब बाहर के लोग कोकराझाड़ में आने से डरते थे, लेकिन

अब ऐसा नहीं होगा। हम कोकराझाड़ शहर को शांति का शहर बनाकर सभी जाति  जनगोष्ठी के मिलन का शहर बनाएंगे।

उन्होंने बीटीसी को भ्रष्टाचार मुक्त और हिंसामुक्त बनाने का जनता से वादा किया। शपथ ग्रहण समारोह में उपस्थित करीब एक लाख से अधिक लोगों को

संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने बीटीसी के प्रमुख के रूप में प्रमोद बोड़ो के कार्यकाल की सफलता की कामना की। सोनोवाल ने बीटीसी के निर्माण के कार्यों में प्रमोद बोड़ो को सहयोग करने की अपील बीटीसी के पूर्व प्रमुख तथा बीपीएफ अध्यक्ष हाग्राम मोहिलारी से किया। 

उन्होंने कहा कि इस बार का चुनाव का प्रधान लक्ष्य भ्रष्टाचार मुक्त, उग्रवाद मुक्त बीटीसी के साथ एक विकासशील और शांत बीटीसी का निर्माण करना था, जिस लक्ष्य को पूरा करने के लिए प्रमोद बोड़ो यात्रा पर निकल चुकें हैं और उन्हें आशा है कि बीटीसी की जनता की भलाई के लिए इस कार्य में परिषद के सभी सदस्यों के साथ बीटीसी के पूर्व प्रमुख हाग्रामा मोहिलारी अपना सहयोग प्रमोद बोड़ो को देंगे।

इस अवसर पर नेडा के संयोजक डॉ. हिमंत विश्व शर्मा ने शपथ ग्रहण समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि बीटीसी में करने के लिए बहुत कुछ बाकी है। बीटीसी में विकास का रास्ता तय करने का समय है। बीटीसी के निर्वाचन में खंडित जनादेश मिला है और भाजपा, यूपीपीएल तथा जीएसपी ने मिलकर बीटीसी में सरकार गठन किया है। भाजपा यूपीपीएल के साथ निस्‍्वार्थ रूप से खड़ी रहेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार बीटीसी के विकास और शांति के लिए हर संभव मदद प्रमोद बोड़ो को देगी ताकि बीटीसी में नए युग की शुरुआत हो सके।

इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रंजीत कुमार दास, मंत्री भवेश 'कलिता, सांसद नव कुमार शरणिया, बोड़ो साहित्य सभा के अध्यक्ष तोरेन बोड़ो, पूर्व राज्यसभा सांसद विश्वजीत दैमारी और यूजी ब्रह्म, राज्य के एडीजीपी जीपी सिंह, बीटीसी के प्रशासक राजेश प्रसाद और बीटीसी के प्रधान सचिव सिद्धार्थ सिंह के अलावा विभिन्न स्वायत परिषदों के प्रमुख तथा उप-प्रमुख इस शपथ ग्रहण समारोह के अवसर पर उपस्थित थे।