प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना से दिल्ली में मुलाकात की है। इस दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच कई अहम समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। दोनों देशों ने आईटी, अंतरिक्ष और न्यूकिलर एनर्जी जैसे सेक्टर में भी सहयोग बढ़ाने का निश्चय किया। शेख हसीना चार दिनों के भारत दौरे पर हैं।

ये भी पढ़ेंः Asia Cup 2022: युजवेंद्र चहल और ऋषभ पंत का पत्ता कटना तय, दिनेश कार्तिक की हो सकती है वापसी

PM नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना के साथ एक संयुक्त बयान जारी किया है।  पीएम मोदी ने कहा, 'आज बांग्लादेश भारत का सबसे बड़ा विकास भागीदार है और इस क्षेत्र में हमारा सबसे बड़ा व्यापार भागीदार है। लोगों के बीच सहयोग में निरंतर सुधार हो रहा है।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'हमने आईटी, अंतरिक्ष और न्यूकिलर एनर्जी जैसे सेक्टर में भी सहयोग बढ़ाने का निश्चय किया।' उन्होंने आगे कहा, 'पिछले वर्ष हमने बांग्लादेश की स्वतंत्रता की 50वीं वर्षगांठ, हमारे डिप्लोमैटिक संबंधों की स्वर्ण जयंती, शेख मुजीबुर्रहमान की जन्म शताब्दी एक साथ मनाई थी। मुझे विश्वास है कि अगले 25 साल के अमृत काल में बार-बांग्लादेश की मित्रता नई ऊंचाईयां छुएगी।'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, आज हमने कुशियारा नदी से जल बंटवारे पर एक महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इससे भारत में दक्षिणी असम और बांग्लादेश में सिलहट क्षेत्र को लाभ होगा। ऐसी 54 नदियां हैं जो भारत-बांग्लादेश सीमा से गुजरती हैं और सदियों से दोनों देशों के लोगों की आजीविका से जुड़ी रही हैं। ये नदियां इनके बारे में लोक-कहानियां, लोक-गीत, हमारी साझा सांस्कृतिक विरासत के भी साक्षी रहे हैं।

यह भी पढ़े : 6 नाबालिग छात्राओं का यौन शोषण करने के बाद निजी स्कूल का प्रिंसिपल फरार

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा, 'अगले 25 वर्षों के लिए अमृत काल की मैं शुभकामनाएं देती हूं, क्योंकि भारत आत्मानिर्भर भारत के लिए किए गए प्रस्तावों को प्राप्त करने की ओर अग्रसर है। मैं भारत लगभग 3 साल के बाद आ रही हूं, मैं भारत का धन्यावाद करती हूं और हमारे बीच आगे एक सकारात्मक प्रस्तावों की अपेक्षा करती हूं।'