तेल और प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) जल्द ही असम-नागालैंड सीमा पर विवादित क्षेत्र में स्थित तेल के कुओं का संचालन फिर से शुरू कर सकता है। केंद्रीय गृह मंत्रालय दोनों राज्य सरकारों के बीच विवाद को सुलझाने के लिए कदम बढ़ा रहा है।

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने दोनों राज्यों की चिंताओं को दूर करने के लिए चर्चा की  जिसके बाद केंद्र की टीमों ने संचालन फिर से शुरू करने में मदद के लिए नागालैंड का दौरा किया था ।

जबकि असम सरकार ने तेल के कुओं के संचालन को फिर से शुरू करने की अनुमति दे दी है अब नागालैंड की प्रतिक्रिया का इंतजार है। असम और नागालैंड के मुख्य सचिवों ने भल्ला द्वारा बुलाई गई बैठक में भाग लिया और आश्वासन दिया कि ड्रिलिंग कार्य फिर से शुरू किया जाएगा।

नागालैंड सरकार द्वारा पिछले साल जून में तीन तेल कुओं में अन्वेषण और उत्पादन गतिविधियों को कथित तौर पर ड्रिलिंग गतिविधियों को शुरू करने से पहले पूर्व अनुमति प्राप्त नहीं करने के लिए रोक दिया गया था।