लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) द्वारा विधानसभा के केंद्रीय हॉल में असम विधानसभा डिजिटल टीवी का आधिकारिक तौर पर शुभारंभ किया है। गार्ड ऑफ ऑनर ने लोकसभा अध्यक्ष को सलामी दी। ओम बिरला ने लोकप्रिया गोपीनाथ बोरदोलोई (Gopinath Bordoloi) को किया याद किया।

बिड़ला (Om Birla) ने कहा कि "भारतीय संविधान को अधिकांश देशों द्वारा अपनाया गया था। विधानसभा अपने सार्वजनिक-लाभ के प्रयासों के लिए प्रसिद्ध है। भारत एक लोकतांत्रिक देश है, और लोकतंत्र (democracy) का सम्मान करना हर विधायक और मंत्री का दायित्व है।"



उन्होंने आगे बताया कि विधानसभा (Assembly) के सभी सदस्य जनता के प्रतिनिधि होते हैं और लोगों के मुद्दों पर विधानसभा का ध्यान आकर्षित करना विधायकों की जिम्मेदारी होती है। जनता के सरोकारों का समाधान भी जनप्रतिनिधि का दायित्व होना चाहिए।
उन्होंने कहा कि संसद के शीतकालीन सत्र (winter session) के दौरान लोकसभा की 18 बैठकें हुईं और सदन 83 घंटे 20 मिनट तक चला। व्यवधान के कारण लोकसभा को 18 घंटे 48 मिनट का नुकसान हुआ। सत्र के दौरान सदन 82 प्रतिशत उत्पादक रहा। सत्र की पहली सात बैठकों में उत्पादकता 102 प्रतिशत रही।