पूर्वोत्तर राज्य असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने कहा कि राज्य में कोरोना की स्थिति (corona cases in Asasm) में सुधार को देखते हुए 15 फरवरी से सभी पाबंदियों को वापस ले लिया जाएगा। उन्होंने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि अगले दो महीनों में स्कूल बोर्ड परीक्षाएं, नगरपालिका चुनाव और माजुली विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव होना है। 

उन्होंने कहा कि बोर्ड परीक्षाओं में केवल वे ही छात्र बैठ पाएंगे, जिन्होंने कोरोना वैक्सीन (corona vaccine) के दोनों टीके लगवाए लिए हों। राज्य में अब रात का कर्फ्यू (night curfew in Assam) नहीं होगा। मॉल और सिनेमा हॉल पूरी क्षमता के साथ खुलेंगे। वहीं शादियों में आने वाले मेहमानों के लिए दोनों वैक्सीन लगाना अनिवार्य होगा। बता दें कि राज्य में रविवार को 10,691 कोरोना टेस्ट (Corona test in Assam) किए गए। वहीं 256 लोगों में कोरोना संक्रमण मिला। इस दौरान 2472 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गई। पिछले 24 घंटों में कोविड से मरने वालों की संख्या भी घटकर 12 हो गई है। असम में सक्रिय कोविड मामले रविवार शाम तक 8,354 थे। कामरूप (मेट्रो) को छोड़कर बाकी जिलों में संक्रमण की दर में काफी गिरावट आई है। पिछले 10 दिनों में (28 जनवरी से 6 फरवरी तक) कामरूप (मेट्रो) में सबसे ज्यादा 3,101 मामले सामने आए हैं। 

बता दें कि तीसरी लहर में 6 जनवरी को असम में टीपीआर 2 प्रतिशत को पार कर गया और बढऩा जारी रहा। यहां तक रविवार को टीपीआर मामूली रूप से बढक़र 2.39 प्रतिशत हो गया। स्वास्थ्य अधिकारियों को कुछ हफ्तों के भीतर राज्य में तीसरी लहर पर पूरा नियंत्रण हासिल करने की बात कही है।  देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Covid19) के मामलों में तेजी से आ रही कमी के बीच पिछले 24 घंटों के दौरान देश में संक्रमण के नये मामलों की तुलना में इससे ठीक हुए लोगों की संख्या (Corona cases in india) करीब 1.20 लाख अधिक रही, जिसके कारण सक्रिय मामले घटकर 11 लाख रह गये। देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस 83,876 मामले दर्ज किये गये, जबकि 1,99,054 लोगों ने इस महामारी को मात दी। देश में रविवार को 14,70,053 लोगों को टीके लगाए गए। देश में अब तक 1,69,63,80,755 टीके लगाये जा चुके हैं।