भाजपा विधायक नुमाल मोमिन को सोमवार को निर्विरोध रूप से असम की 15वीं विधानसभा का उपाध्यक्ष चुना गया। विधानसभा अध्यक्ष बिस्वजीत दैमारी ने बताया कि सत्तारूढ़ गठबंधन के दलों भाजपा, असम गण परिषद (एजीपी) और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (यूपीपीएल) ने मोमिन के नाम का प्रस्ताव दिया था वहीं विपक्ष की ओर से कोई आवेदन नहीं मिला था।

दैमारी ने बताया, ‘चूंकि मोमिन के विरोध में और और कोई नामांकन नहीं था, मैं उन्हें उपाध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचित घोषित करता हूं.... मैं उन्हें बधाई देता हूं।’

मोमिन बोकाजान सीट से दूसरी बार विधायक चुने गए हैं। दैमारी 21 मई को विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए।