असम-मिजोरम सीमा विवाद बढ़ता ही जा रहा है। सीमा विवाद के दौरान देवव्रत सैकिया के नेतृत्व में असम कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल ने सीमा का दौर किया। असम विधानसभा के विपक्षी नेता और असम कांग्रेस नेता देवव्रत सैकिया ने कहा कि राज्य कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल को असम-मिजोरम सीमा की यात्रा के दौरान एक मिजो अधिकारी ने धमकी दी थी। असम कांग्रेस कमेटी (APCC) का प्रतिनिधिमंडल, देवव्रत सैकिया के नेतृत्व में विवादित असम-मिजोरम सीमा का दौरा किया था।


यात्रा के दौरान अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव के साथ प्रतिनिधिमंडल भी शामिल हुआ। सैकिया ने एक वीडियो साझा करते हुए बताया कि कैसे एक मिज़ो अधिकारी APCC प्रतिनिधिमंडल को विवादित जगह छोड़ने के लिए कहते हुए दिखाई दे रहा है। बता दें कि सैकिया ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। सैकिया ने ट्वीट में लिखा कि आज मेरे साथ APCC प्रतिनिधिमंडल के साथ अशांत असम-मिजोरम सीमा क्षेत्र का दौरा किया।


जारी एक वीडियो में मिजो अधिकारी आकर APCC प्रतिनिधिमंडल को धमकी दी और वह जगह जल्द छोड़ने के लिए कहा। सैकिया ने यह भी कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारतीय धरती पर एक राज्य के एक अधिकारी ने एक प्रतिनिधिमंडल को ब्लॉक करने की कोशिश की जो दूसरे राज्य की विधानसभा का प्रतिनिधित्व करता है। असम कांग्रेस नेता सैकिया ने कहा कि विवादित भूमि में मिजो पुलिस द्वारा असम पुलिस का दबदबा है और असम सरकार की लापरवाही की ओर से असम की सरकार की जमीन खो देने के रास्ते पर है।