असम में निकासी अभियान के दौरान नागरिकों की हत्या के विरोध में अल्पसंख्यक छात्र संघ, जमीयत और कुछ अन्य संगठनों ने संयुक्त रूप से राज्य के दरांग जिले में 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है। वहां सरकार द्वारा नियुक्त फोटोग्राफर सहित पुलिसकर्मियों को अज्ञात व्यक्ति की बेरहमी से पिटाई करते और शव पर कूदते हुए दिखाया गया है। 

संगठन की संयुक्त कमेटी ने संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा कि उन्होंने राज्य सरकार और प्रशासन से प्रत्येक मृतक के परिजन को 10-10 लाख रुपये और प्रत्येक घायल को पांच-पांच लाख रुपये देने की मांग की है। 

राज्य सरकार ने निकासी अभियान के दौरान पुलिसकर्मियों और नागरिकों के बीच ङ्क्षहसक झड़प की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। जिस फोटोग्राफर को शव पर कूदते हुए देखा गया है, उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। इस वीडियो ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पूरे देश भर में आक्रोश देखा जा रहा है।