पूर्वोत्तर राज्य असम में कोविड-19 (Covd-19 in Assam) संबंधी स्थिति में सुधार के बाद मंगलवार को महामारी संबंधी प्रतिबंधों में छूट दी गई और अब रात्रिकालीन कर्फ्यू (Night curfew) रात 11 बजे से सुबह पांच बजे तक प्रभावी रहेगा। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। नए दिशानिर्देश जारी करते हुए मुख्य सचिव जिश्नु बरुआ (Chief Secretary Jishnu Barua) ने कहा कि राज्य की 31 प्रतिशत आबादी का पूरी तरह टीकाकरण (vaccination) हो चुका है जबकि 95 फीसदी लोगों को टीके की पहली खुराक मिल चुकी है।

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (ASDMA) ने अपने आदेश में कहा, ‘‘ राज्य में कोविड-19 (Covid-19) स्थिति की समीक्षा की गई और यहां महामारी की समग्र स्थिति में सुधार पाया गया।'' आदेश में कहा गया कि संक्रमण के नए मामले 300-400 के बीच सामने आ रहे हैं और ज्यादातर मामले शहरी या शहर के करीब के इलाकों से आ रहे हैं। वहीं पिछले चार-पांच सप्ताह से ज्यादातर जिलों में कोविड-19 के 10 से भी कम नए मामले सामने आए हैं। आदेश में रात्रिकालीन कर्फ्यू में छूट दी गई। अब कर्फ्यू रात के 10 बजे के बदले 11 बजे से सुबह पांच तक प्रभावी रहेगा।

नए दिशानिर्देशों में अब शादी में टीके की दोनों खुराक लेने वाले 200 लोगों की जगह कम से कम एक खुराक ले चुके अधिकतम 50 लोग ही शामिल हो सकते हैं। वहीं अंतिम संस्कार में अब 50 लोग शामिल हो सकते हैं। यह आदेश तत्काल प्रभावी हो गया। प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों पर प्रति घंटे 60 लोगों को आने की अनुमति है। सिनेमाघर और सभागार 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालन कर सकते हैं।