भारत में केरल (Kerala), तमिलनाडु (Tamilnadu) और आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के कई इलाकों में बाढ़ का कहर जारी है। उधर, असम (Assam) के पश्चिम कार्बी आंगलोंग (West Karbi Anglong) में रविवार को अचानक बाढ़ आने से कई घर बह गए। वहीं, दो सड़कों को भी काफी नुकसान पहुंचा है। उधर, उत्तराखंड, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है। इसी के चलते उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में सोमवार को 1 से 12वीं तक के सभी स्कूल बंद रखने के आदेश दिए गए हैं।

असम (Flood in Assam) के पश्चिम कार्बी आंगलोंग के बैथलंगसो में अचानक आई बाढ़ के कई घरों और सड़कों को नुकसान पहुंचा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैथलंगसो में लगातार हो रही तेज बारिश के चलते बाढ़ जैसी स्थिति बन गई। स्थानीय लोगों के मुताबिक, अचानक आई बाढ़ से क्षेत्र के कई इलाकों में पानी भर गया और एमट्रेंग बाजार क्षेत्र में कई दुकानें, व्यापारिक प्रतिष्ठानों को भी नुकसान पहुंचा।

एमट्रेंग से गुवाहाटी को जोड़ने वाली दो प्रमुख सड़कें भी भारी बारिश के चलते क्षतिग्रस्त हो गईं। एक स्थानीय ग्रामीण ने कहा कि पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश से काफी नुकसान हुआ है। बाढ़ के चलते यहां कई मकान, दुकानें भी क्षतिग्रस्त हो गईं। हालांकि, यहां बारिश से जुड़ी घटना में किसी की जान जाने की खबर नहीं है।

मौसम विभाग ने सोमवार को उत्तराखंड में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इतना ही नहीं राज्य में रेड अलर्ट जारी किया गया है। ऐसे में पिथौरागढ़ जिलाधिकारी आशीष चौहान ने भारी बारिश की संभावना को देखते हुए 1 से 12वीं तक के सभी स्कूल बंद रखने के आदेश दिए हैं। जिलाधिकारी ने सभी विभागों को अलर्ट मोड पर रखा है। मौसम विभाग ने 20 अक्टूबर तक ओडिशा के प बंगाल में कई हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना जताई है।

केरल में भारी बारिश की वजह से हाहाकार मचा हुआ है। राज्य के कई जिलों में हो रही लगातार बारिश के चलते कई पुल टूट गए, जिससे लोगों का संपर्क टूट गया। साथ ही लैंडस्लाइड्स में कम से कम तीन घर भी बह गए। केरल में बारिश और उसके बाद बने बाढ़ जैसे हालात के चलते 26 लोगों की मौत हो गई है।