कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार ने बड़ी राहत देते हुए दुकानें खोलने की इजाजत दे दी है। हालांकि पूर्वोत्तर राज्य असम में इस पर कोई फैसला नहीं लिया जा सका है। असम के मुख्य सचिव कुमार संजय कृष्णा ने कहा है कि राज्य में दुकानों और ब्यूटी पार्लर को खोलने को लेकर 27 अप्रैल, 2020 को ही कोई फैसला लिया जाएगा।

कृष्ण ने कहा कि अभी तक लॉकडाउन के नियमों में कोई ढील नहीं दी गई है और सरकार ने दुकानों, ब्यूटी पार्लरों आदि के खोलने पर कोई निर्णय नहीं लिया है। उन्होंने कहा, राज्य सरकार दो दिनों तक स्थिति देखने के बाद सोमवार को इस पर विचार करेगी। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) जी पी सिंह ने लोगों से राज्य सरकार के निर्देशों की प्रतीक्षा करने का आग्रह किया। असम में कोविड-19 के 35 मामले सामने आए हैं। उनमें से 19 ठीक हो गए हैं जबकि एक की मौत हो गई है।

गौरतलब है कि गृह मंत्रालय ने शनिवार से दुकानें खोलने की अनुमति दे दी है। मंत्रालय का यह फैसला ऐसे समय पर आया है जब मुसलमानों का रमजान का पवित्र महीना शुरू हो गया है। गृह मंत्रालय ने 15 अप्रैल को जारी अपने आदेश में संशोधन करते हुए कहा है कि लॉकडाउन के दौरान देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में दुकानें और स्थापना अधिनियम के तहत पंजीकृत और नगर निगम और नगर पालिका क्षेत्रों में मौजूद आवासीय परिसरों व निकट पड़ोस की दुकानों के साथ ही एकल दुकानें खोलने की अनुमति होगी।