गुवाहाटी । कारागए में बंद कृषक मुक्ति संग्राम समिति के सलाहकार तथा कृषक नेता अखिल गोगोई ने शुक्रवार को कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (का) से असमियाजाति खत्म हो जाएगी, लिहाजा इस कानून के खिलाफ सभी असमवासियों को एकजुट होना चाहिए। शारीरिक रूप से अस्वस्थ्य श्री गोगोई ने यह बात उस वक्‍त कही, जब उन्हें स्वास्थ्य जांच के लिए गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया था।

उन्होंने कहा कि अगले विधानसभा चुनावों में हिंदुत्ववादी कट्टर मुस्लिम ताकतों को पराजित करना ही होगा। इसके लिए सभी क्षेत्रीय दलों को एकजुट होकर अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में न सिर्फ भारतीय जनता पार्टी को पराजित करना होगा, बल्कि इसके साथ ही विधानसभा के पहले सत्र में ही यह प्रस्ताव भी पारित करना होगा कि असम में 'का' को लागू नहीं किया जाएगा। कृषक नेता ने उम्मीद जताई कि वे इसी महीने जेल से रिहा हो जाएंगे।

उन्होंने इस बात पर अफसोस प्रकट किया कि राज्य में 'का' विरोधी आंदोलन मंद पड़ता जा रहा है। उन्होंने राज्यवासियों से एक बार फिर 'का' विरोधी आंदोलन को तेज करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि समय रहते 'का' के खिलाफ जोरदार तरीके से आंदोलन नहीं छेड़ा गया तो आने वाला वक्‍त हमें माफ नहीं करेगा।