पत्रकारों हमले की घटनाएं दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। हाल ही में असम के बोंगाईगांव में  पर कथित तौर पर हमला किया गया। एक न्यूज चैनल में काम करने वाले बोंगाईगांव के पत्रकार धीरज चक्रवर्ती (Journalist Dhiraj Chakraborty) ने बताया कि " घटना रात की है। मैं अपने एक दोस्त के साथ अपनी कार में गुवाहाटी से आ रहा था और लगभग 9.30 बजे टोल गेट पर पहुंचा "।

उन्होंने आगे आपबीती कही कि " मैंने टोल टैक्स में छूट के लिए अपना प्रेस आईडी कार्ड प्रस्तुत किया। लेकिन कर्मचारियों में से एक ने कहा कि प्रेस कार्ड (Press Card) के तहत छूट बंद हो गई है और इसलिए, मुझे दोगुना टोल टैक्स देना (toll tax) होगा। मैं इसका भुगतान करने के लिए तैयार हो गया और उन्हें पैसे दे दिए "।

आगे कहा कि " पैसे देने के बाद भी उसी वक्त शराब के नशे में धुत एक कर्मचारी ने मुझे गालियां देनी शुरू कर दीं। उसने अपने कुछ दोस्तों को भी बुलाया जो टोल गेट पर बैठे थे। उनके पास लाठी और धारदार हथियार थे और नशे में भी लग रहे थे। उन्होंने मुझ पर हमला करने की कोशिश की। मैं उस समय खुद को असहाय महसूस कर रहा था और किसी तरह भागने में सफल रहा।"