धुबरी पुलिस ने एक अंतरराष्ट्रीय मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शामिल होने के संदेह में एक व्यक्ति को 13 लाख रुपये की नगदी के साथ गिरफ्तार किया है.

धुबरी के एसपी गौरव अभिजीत दिलीप ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि कोलकाता से धुबरी एक व्यक्ति की संदिग्ध गतिविधि हो रही है और सूत्रों के आधार पर एक ऑपरेशन शुरू किया गया था।

पुलिस ने बस टर्मिनल में एक बस को रोककर तलासी ली और बस में से एक साहिदुल इस्लाम नाम के व्यक्ति को पकड़ा । पुलिस ने जांच करने पर पाया कि वह अपने साथ 13 लाख रुपये की बेहिसाबी नकदी ले जा रहा था।

एसपी ने बताया कि मामले की आगे की जांच करने पर पता चला कि वह व्यक्ति एक अंतरराष्ट्रीय मनी लॉन्ड्रिंग नेटवर्क का हिस्सा था। वह एक कूरियर है जो अवैध व्यवसायों से एक स्थान से दूसरे स्थान पर धन हस्तांतरित करता है।

उन्होंने कहा कि यूसुफ अली के रूप में पहचाने जाने वाले एक अन्य व्यक्ति को इस्लाम के बयान के आधार पर गिरफ्तार किया गया था। ये दोनों धुबरी के रहने वाले हैं। एसपी ने आगे बताया कि कई अन्य सबूत मिले हैं और यह भी पाया गया है कि पैसा बांग्लादेश से भेजा गया था। यह सीमावर्ती जिलों में चल रहे अवैध पशु व्यापार का हिस्सा हो सकता है।

उन्होंने कहा कि पैसे की हेराफेरी एक रास्ते से की जाती है. “यह बांग्लादेश में एक स्थान से शुरू होता है, फिर पश्चिम बंगाल में कोलकाता, कूच बिहार और फिर धुबरी तक। धुबरी से इसे अपने अंतिम गंतव्य के लिए भेजा जाता है। आगे की जांच शुरू कर दी गई है।