असम प्रदेश में मौजूदा बाढ़ आपदा के बारे में जागरूकता पैदा करने और पुनर्वास में मदद करने के लिए 'इंडिया फॉर असम' नामक एक पहल शुरू की गई है। यहां जारी बयान में कहा गया है कि इस पहल की शुरूआत मीडिया समूह टाइम्स नेटवर्क ने की है। समूह ने देश के लोगों से मुख्यमंत्री राहत कोष में दान कर अमस की मदद करने की अपील की है। 

असम में हर साल बाढ़ आती है और इस साल बाढ़ के कारण 27 जिले डूब गये हैं और 40 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुये हैं । विज्ञप्ति में कहा गया, 'असम बाढ़ की स्थिति चिंताजनक बनी हुई है तथा इससे मानव और मवेशी दोनों का पीड़ाजनक विस्थापन हुआ है।' 

टाइम्स समूह के महा प्रबंधक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम के आनंद के हवाले से बयान में कहा गया है, 'असम को सबसे खराब प्राकृतिक आपदा का सामना करना पड़ रहा है, यह राज्य कोरोना वायरस संक्रमण का भी सामना कर रहा है। 

आनंद ने कहा, 'असम में सामान्य स्थिति बहाल करने के प्रयासों के लिए हमें तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है। 'इंडिया फॉर असम' राष्ट्र के लिए एक स्पष्ट आह्वान है, जिसमें सभी भारतीयों से पहल और उदारतापूर्वक राहत तथा पुनर्वास कार्य के लिए दान देने की अपील की गई है।'