कांग्रेस नेता राहुल गांधी (congress leader Rahul Gandhi) के खिलाफ उनके विवादास्पद ट्वीट को लेकर 1500 राजद्रोह के मामले दर्ज कराई गई है। राहुल गांधी के ट्वीट, 'भारत कश्मीर से केरल, गुजरात से पश्चिम बंगाल तक मौजूद है' से पूर्वोत्तर राज्यों की अनदेखी का आरोप लग रहा है। ऐसा आरोप है कि राहुल गांधी ने जानबूझकर पूर्वोत्तर की उपेक्षा की और अरुणाचल प्रदेश पर चीन की अवैध मांग को स्वीकार किया। असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा, राज्य भाजपा अध्यक्ष भाबेश कलिता और मंत्री पीयूष हजारिका के साथ चर्चा के बाद भाजयुमो ने राहुल गांधी के खिलाफ 1500 शिकायतें दर्ज कराई हैं।

भाजयुमो ने कहा कि राहुल गांधी ने भारत को कश्मीर से केरल और गुजरात से पश्चिम बंगाल तक फैला बताया है। लेकिन उन्होंने पूर्वोत्तर को भारत का हिस्सा नहीं बताया। आरोप है कि राहुल गांधी ने अप्रत्यक्ष तौर पर चीन का समर्थन किया है। गौरतलब है कि चीन अरुणाचल के कुछ हिस्से को अपना मानता है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का ये ट्वीट उनकी अलगाववादी मानसिकता को दिखाता है। 

विवादास्पद टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए, असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Assam Chief Minister Himanta Biswa Sarma) ने कहा, 'भारत सिर्फ एक संघ से बहुत आगे है। हम एक गौरवान्वित राष्ट्र हैं। भारत को आपके टुकड़े-टुकड़े दर्शन का बंधक नहीं बनाया जा सकता। राष्ट्र, राष्ट्रीयता और राष्ट्रवाद से आपकी क्या समस्या है? और नमस्ते- बंगाल से परे, हम पूर्वोत्तर मौजूद हैं।'

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने 10 फरवरी को ट्वीट किया था, 'हमारी एकता में ताकत है, संस्कृतियों की हमारी एकता, विविधताओं की हमारी एकता, भाषाओं की हमारी एकता, लोगों की हमारी एकता, राज्यों की हमारी एकता'। कश्मीर से केरल तक गुजरात से पश्चिम बंगाल तक भारत अपने सभी रंगों में खूबसूरत है। भारत के जज्बे का अपमान मत कीजिए।

वहीं, भाजपा समर्थकों की शिकायतों के आधार पर असम पुलिस ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (Telangana Chief Minister K Chandrashekhar Rao) के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सबूत मांगने और भारत विरोधी भावनाओं को प्रोत्साहित करने के लिए मामला दर्ज किया है। असम पुलिस के सूत्रों ने यह जानकारी दी। 

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब (Tripura Chief Minister Biplab Kumar Deb) ने भी कांग्रेस पार्टी और उसके नेता राहुल गांधी को उनकी अपमानजनक टिप्पणी के लिए फटकार लगाई। 'प्रचार करने के लिए, श्रीमान राहुल गांधी हमारे सुंदर पूर्वोत्तर राज्यों को भूल गए हैं। अपने परदादा की तरह ही उन्होंने हमारे क्षेत्र को बहिष्कृत कर दिया? हम भी भारत के गौरवशाली अंग हैं। आपकी अज्ञानता के कारण आपकी पार्टी का पूर्वोत्तर से पूरी तरह सफाया हो गया है।'

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह (Manipur Chief Minister N. Biren Singh) ने उल्लेख किया, 'यह मुझे चकित करता है जब एक वरिष्ठ @INCIndia नेता अपने बयानों में उत्तर पूर्व भारत के अस्तित्व की उपेक्षा करता है। जब इस क्षेत्र के अस्तित्व को ही स्वीकार नहीं किया जाता है, तो कांग्रेस आगामी चुनाव के लिए मणिपुर के लोगों से वोट कैसे मांग रही है? देश को कौन बांट रहा है?'