असम के शहरी विकास के लिए सरकार कई तरह के काम कर रही है। बीटीसी चुनाव पास आने के से भी सरकार सावधान हैं। इसी पर मंत्री पीयूष हजारिका ने दरंग के जिला मुख्यालय मंगदाई में पाइप जलापूर्ति परियोजना का उद्घाटन किया है। जल आपूर्ति परियोजना को आधारशिला रखने के बाद पीयूष हजारिका ने कहा कि आगामी राज्य विधानसभा चुनावों पर नज़र रखते हुए, सत्तारूढ़ भाजपा ने विकास संबंधी परियोजनाओं के औपचारिक शुभारंभ के साथ अपनी सरकार के सभी क्रेडिट का दावा करने का प्रयास किया है।

पीयूष हजारिका ने यह भी बताया कि भाजपा की अगुवाई वाली सरकार लंबे समय से परियोजनाओं को पूरा करने के लिए काम कर रही है, जिनमें से कुछ परियोजनाएं पिछली कांग्रेस सरकार द्वारा शुरू की गई थीं। इसका उद्घाटन मंगलदई लोकसभा सांसद दिलीप सैकिया, मंगलदई विधायक गुरुज्योति दास, डिप्टी कमिश्नर दिलीप कुमार बोरा और कार्यान्वयन एजेंसी असम शहरी जल आपूर्ति और सीवरेज बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में किया गया।

केंद्रीय NLCPR कार्यक्रम के तहत योजना की अनुमानित लागत 1,261 लाख रुपये बताई गई है। परियोजना के तहत 38,000 मीटर लंबी पाइपलाइनों के माध्यम से 5,000 घरों के लिए तीन मिलियन लीटर से अधिक क्षमता के ओवरहेड जल भंडार के साथ गेरिमारी में परियोजना का निर्माण किया गया है। फरवरी 2012 में तत्कालीन पीडब्ल्यूडी और शहरी विकास मंत्री अजंता नेग द्वारा परियोजना की आधारशिला रखी गई थी।