कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने असम में विधानसभा चुनाव जीतने पर घरेलू महिलाओं को प्रति माह 2,000 रुपये की रकम देने का ऐलान किया है। यही नहीं दिल्ली की तर्ज पर 200 यूनिट मुफ्त बिजली देने की भी घोषणा की है। राहुल गांधी ने 5 बड़ी घोषणाएं करते हुए कहा कि हमारी सरकार बनी तो चाय बागान में काम करने वाले मजूदरों को प्रतिदिन 365 रुपये की दिहाड़ी दी जाएगी। इसक अलावा सीएए लागू नहीं किया जाएगा और 5 लाख युवाओं को नौकरी दी जाएगी। यही नहीं राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी ने 365 रुपये प्रतिदिन चाय मजदूरों को देने का ऐलान किया था, लेकिन सिर्फ 167 रुपये दिहाड़ी ही दी जा रही है।

राहुल गांधी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, 'बीजेपी ने 365 रुपये का वादा किया था, लेकिन मजदूरों को 167 रुपये की ही दिहाड़ी दी जा रही है। मैं नरेंद्र मोदी नहीं हूं, मैं झूठ नहीं बोलता। आज हम आपको 5 गारंटी देते हैं। चाय बागान मजदूरों को 365 रुपये की दिहाड़ी मिलेगी। सीएएम लागू नहीं किया जाएगा। राज्य के 5 लाख युवाओं को नौकरी दी जाएगी। हर घर को 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली दी जाएगी। घरेलू महिलाओं को 2,000 रुपये प्रति माह की रकम दी जाएगी।' चाय बागान मजदूरों के बारे में बात करते हुए कांग्रेस लीडर ने कहा कि हमारा मेनिफेस्टो बंद दरवाजे के अंदर तैयार नहीं हुआ है बल्कि आदिवासियों से बातचीत के आधार पर बना रहे हैं।

यही नहीं राहुल गांधी ने चाय बागान इंडस्ट्री के लिए भी अलग से मंत्रालय स्थापित करने का वादा किया। उन्होंने कहा कि आप लोगों की समस्याओं को हल करने के लिए हम चाय बागान इंडस्ट्री के लिए एक मंत्रालय गठित करेंगे। राहुल गांधी ने छाबुआ में चाय बागान मजदूरों से बात की और फिर तिनसुकिया जिले में एक रैली को संबोधित किया। शनिवार को भी राहुल गांधी असम में ही चुनावी रैलियों में व्यस्त रहेंगे। शनिवार को ही राहुल गांधी असम कांग्रेस के नेताओं के साथ मिलकर पार्टी का मेनिफेस्टो जारी करेंगे।  

बता दें कि असम में तीन चरणों में चुनाव होना है। पहले राउंड का मतदान 27 मार्च को होना है। इसके बाद 1 अप्रैल को दूसरे चरण और तीसरे चरण का मतदान 6 अप्रैल को होगा। 2 मई को पश्चिम बंगाल एवं अन्य तीन राज्यों के साथ ही असम के भी चुनावी नतीजे आएंगे। राज्य में बीजेपी और कांग्रेस के बीच मुख्य मुकाबला है। वहीं कांग्रेस ने सूबे में बदरुद्दीन अजमल की एआईएयूडीएफ के साथ गठबंधन किया है। इसके अलावा कुछ अन्य क्षेत्रीय पार्टियों को भी गठबंधन में शामिल किया है।