असम और मिजोरम में सीमा विवाद को लेकर लोगों के बीच में झड़प हो गई है। जिसमें कई लोग घायल हो गए हैं। यह झगड़ा कई सालों से हो रहा है, इसको सुलझाने के लिए कई तरह से बात की लेकिन सुलझा नहीं पाए। लेकिन अब ये बात इतनी बढ़ गई है कि केंद्र तक तक पहुँच गई है। हाल ही में हुई सीमा विवाद झड़प पर गृह मंत्री अमित शाह असम और मिजोरम सीमा विवाद को शांत करने के लिए एक कदम उठाया है।


   
गृहमंत्री ने मिजोरम के मुख्यमंत्री ज़ोरमथांगा को असम और मिज़ोरम के बीच सौहार्दपूर्ण संबंधों को बहाल करने के कदमों का आश्वासन दिया है और इसी के साथ झड़प पर "खेद" व्यक्त किया है। अमित शाह ने दोनों मुख्यमंत्रियों को अपने बीच में सौहार्दपूर्ण संबंधों को बहाल करने के कदमों का आश्वासन दिया है। जानकारी दे दें कि दो राज्य मिजोरम सीमा के साथ दक्षिण असम के जिले के लेलपौर में सीमा को भड़काने के लिए गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने मुख्य सचिवों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए एक बैठक की।
बता दें कि इस सीमा विवाद पर कम से कम 20 घरों और दुकानों को तबाह कर दिया गया है क्योंकि मिज़ोस ने चेकपॉइंट पर कथित तौर पर पेट्रोल बम फेंके थे। दोनों राज्यों के अधिकारियों ने सोमवार को लायलपुर में भड़काऊ हल निकालने के लिए बातचीत की। यह मामला बढ़ता ही जा रहा है। केंद्र सरकार इस पर कब तक फैसला लेगी इसका इंतजार किया जा रहा है।