असम सरकार एक के बाद एक राज्य में विकास की झड़ी लगा रही है। अभी युवाओं तोहफा देने के लिए हिमंता सरकार और भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (SIDBOI) ने राज्य में स्टार्टअप उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए एक संयुक्त कोष विकसित करने का फैसला किया है।
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, असम के मुख्यमंत्री डॉ हिमंता बिस्वा सरमा, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री डॉ भागवत किशनराव कराड, केंद्र और राज्य सरकार दोनों के अधिकारियों, निदेशक की उपस्थिति में गुवाहाटी में हुई एक बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया।


यह भी पढ़ें- Manipur Assembly Election 2022 में भाजपा ने कर दिया कांग्रेस का सूपड़ा साफ, इससे बेहतर छोटी छोटी पार्टियों ने मार ली बाजी


हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा कि  "हम कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में मिड-लेवल स्टार्ट-अप इंफ्रा स्थापित करने की भी योजना बना रहे हैं।" मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि असम सरकार और भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक दोनों ने स्टार्टअप क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए अन्य संस्थानों को संभालने में IIT की भूमिका का विस्तार करने की आवश्यकता पर जोर दिया है।
यह भी पढ़ें- हार पचा नहीं पा रही कांग्रेस! करारी हार के बाद गुस्साए इबोबी सिंह, भाजपा पर लगा दिए घिनौने आरोप 


इससे पहले, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुवाहाटी में असम और पूर्वोत्तर क्षेत्र के अन्य हिस्सों के व्यापार और उद्योग के हितधारकों के साथ बजट के बाद बातचीत सत्र को भी संबोधित किया था।