प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में अरविंद केजरीवाल का बयान दिल्ली सीएमओ की ओर से लाइव टेलीकास्ट किया गया था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़ने पर आपत्ति जताई थी। बैठक के एक दिन बाद असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री पर अरविंद केजरीवाल पर कटाक्ष किया। केजरीवाल, दिल्ली में कोविड मामले बढ़ने के बाद केंद्र सरकार से लगातार मदद की अपील कर रहे हैं।

  

हिमंत बिस्वा सरमा ने शनिवार को अरविंद केजरीवाल को टैग करते हुए ट्वीट किया" अरविंद केजरीवाल- असम ने कोरोना संकट के बाद 8 ऑक्सीजन प्लांट्स (5.25 MT/day) लगाए हैं। 5 प्रोसेस में हैं। पीएम श्री नरेन्द्र मोदी  ने पीएम केयर्स से दिसंबर में दिल्ली को 8 प्लांट्स के लिए फंड दिया। आप मोदी को दोष क्यों दे रहे हैं जब आपकी सरकार विफल हो गई और 8 में से सिर्फ एक प्लांट लगा पाई।"

शुक्रवार को प्रधानमंत्री के साथ एक चर्चा के दौरान अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी के ऑक्सीजन संकट पर बात की थी क्योंकि दिल्ली के कई अस्पतालों ने ऑक्सीजन के संकट पर मदद के लिए अदालतों का दरवाजा खटखटाया है। बैठक में अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को सूचित किया कि दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी के कारण "बड़ी त्रासदी" हो सकती है और प्रधानमंत्री के हस्तक्षेप की मांग करते हुए कहा कि "सर, हमें आपकी गाइडेंस की जरूरत है"

गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (जीएमसीएच) में मीडिया के साथ बातचीत करते हुए सरमा ने कहा, "मौजूदा क्षमता के साथ, जीएमसीएच और असम के लोक निर्माण विभाग ने संभावित संकट से निपटने के लिए 10-15 और ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की स्थिति पर एक बैठक की है।" पिछले साल असम के कोविड-19 संकट से निपटने के लिए और कई कोविड सुविधाओं का निर्माण करके और कम मृत्यु दर और टेस्ट्स को सरमा की तारीफ की गई थी। 

असम के मंत्री सरमा ने शुक्रवार को #ModiSavesIndia के साथ चार ट्वीट की सीरज में केंद्र द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों की जानकारी दी और कहा कि जिन राज्यों में भाजपा सत्ता में नहीं है, उन राज्यों को भी उनकी ऑक्सीजन का शेयर दिया जा रहा है। सरमा ने कहा कि असम कोविड मामलों ने लगातार बढ़ने के बाद लगभग 650 बेड जोड़े हैं। असम ने शनिवार को कोरोना संक्रमण के 2,236 नए मामले सामने आए। राज्य में एक्टिव केस की संख्या 14,000 से ज्यादा है।