असम की हिमंता बिस्वा सरमा सरकार ने Assam Budget 2022-23 पेश ​कर दिया है। असम बजट 2022-23 में सरकार ने कई बड़ी घोषणाएं की हैं। सरकार ने कहा है कि ये घोषणाएं पूरी होने के साथ ही असम का सर्वांगीण विकास होगा। जानिए बजट से जुड़ी महत्वपूर्ण घोषणाएं...

यह भी पढ़ें :  दी कश्मीर फाइल्स फिल्म के खिलाफ उतरा ये दबंग मुस्लिम नेता, कर दिया इतना बड़ा ऐलान

— असम में स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाने के लिए इस बजट में कई अहम कदम उठाए गए हैं।

— राज्य में 1000 बुनियादी स्वास्थ्य केंद्रों की स्थापना और 200 उपकेंद्रों के उन्नयन के माध्यम से प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार होगा।

— दुधनोई और पलाशबरी में स्थापित होंगे नए आयुर्वेदिक कॉलेज

— हर मेडिकल कॉलेज में एक बीएससी नर्सिंग कॉलेज/जीएनएम नर्सिंग स्कूल की स्थापना की जाएगी।

— परिवहन व्यवस्था के विकास में इस बजट में महत्व।

— गुवाहाटी से कई छोटे शहरों तेजपुर, लखीमपुर, डिब्रूगढ़ और सिलचर तक कम लागत में एयरलाइंस।

— बजट में 37,578 करोड़ से सड़क संचार सुधारने की योजना।

— जल परिवहन प्रणाली के विकास के लिए 770 करोड़ आवंटित।

— कोविड से तबाह हुई अर्थव्यवस्था के पुनर्निर्माण के लिए बजट तैयार है।

— निवेश पर अधिक महत्व के साथ तैयार है बजट।

— राज्य घरेलू उत्पादन का लक्ष्य 4 करोड़ 33 लाख 933।

— जीडीपी 2020- 2021 से 13। वृद्धि का लक्ष्य 89% तक।

— 2020- 2021 बजट का कुल व्यय 79154 है। 76 करोड़ रुपये।

— 2022-23 के बजट में बिजली विभाग के लिए बहुत बड़ा फंड निर्धारित किया गया है।

— मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा परियोजना के तहत 1,000 मेगावाट की बढ़ी क्षमता वाली सौर ऊर्जा उत्पादन परियोजना के माध्यम से ऊर्जा उत्पादन बढ़ाने के लिए 4,000 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

यह भी पढ़ें :  हिमंत बिस्वा सरमा का बड़ा बयान! असम में सबसे ज्यादा है मुसलमान, अब वे अल्पसंख्यक नहीं

— 2022-23 के बजट में खाद्य सुरक्षा योजना के क्षेत्र में विभिन्न कदम उठाए गए हैं।

— राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना (NFSA) के तहत प्रत्येक व्यक्ति को 5 किलो अतिरिक्त मुफ्त चावल उपलब्ध कराया जा रहा है। 488. 68 करोड़ रुपये की लागत से जारी रहेगी अन्न योजना।

— प्रत्येक जिले के लिए लगभग 688 करोड़ रुपये जारी, परिवहन व्यय और सस्ती दुकानदारों को उपलब्ध कराने के लिए।

— 150 धान खरीदी केंद्र और कम से कम 30 चावल संग्रहण की स्थापना की जाएगी।।

— प्रत्येक जिले के लिए लगभग 688 करोड़ रुपये का ओपन ग्रुप स्थापित किया जाएगा ताकि परिवहन व्यय और किफायती दुकानदारों को मिल सके।

— सड़कों के विकास के लिए चार नई योजनाएं।

— मुख्यमंत्री पथ निर्माण योजना : 250 करोड़ रुपये होंगे खर्च।

— मुख्यमंत्री उन्नत सड़क निर्माण योजना : 1485 करोड़ रुपये होंगे खर्च।

— मुख्यमंत्री जी का सिर गारा योजना : 1107 खर्च होंगे 78 करोड़।

— मुख्यमंत्री सड़क नवीकरण योजना: खर्च होंगे 320 करोड़ रुपए।