असम का कांजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान अब जल्द ही चमक उठेगा।

फ़ोटो का कोई वर्णन उपलब्ध नहीं है.

असम के मुख्यमंत्री डॉ. हिमंता बिस्वा सरमा ने काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान को मजबूत बनाने के लिए बैठक की है।

हाथी और प्रकृति की फ़ोटो हो सकती है

यह भी पढ़ें : रूस-यूक्रेन छोड़ो, भारतीयों को देश के ही इस राज्य में जाने के लिए लेना पड़ता है वीजा, जानिए क्यों

इस बैठक में मुख्य सचिव, वन विभाग के अधिकारियों और अन्य संबंधित विभागों के अध्यक्ष शामिल हुए।

wading bird और प्रकृति की फ़ोटो हो सकती है

इस बैठक में राष्ट्रीय उद्यान के विभिन्न मुद्दों और अन्य पहलुओं पर चर्चा के अलावा, राष्ट्रीय उद्यान में नए पर्यटन क्षेत्रों के विकास पर भी जोर दिया गया। 

हिरण और प्रकृति की फ़ोटो हो सकती है

यह भी पढ़ें : फागुन के इस मौसम में परवान पर है असम का प्राकृतिक सौंदर्य, ये तस्वीरें जीत लेंगी दिल

इस दौरान वर्तमान में राष्ट्रीय उद्यान में वन्यजीव गलियारों के अध्ययन, नए गलियारों के निर्माण और 'असम गौरव' एक सींग वाले गैंडे के संरक्षण से संबंधित महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की।

प्रकृति की फ़ोटो हो सकती है

आपको बता दें कि असम का कांजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान यहां बसने वाले एक ​सींग वाले गैंडे के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है।