रायजोर दल (Raijor Dal) ने कहा कि "आज, भाजपा विधायक (BJP MLA) भुबन पेगू (Bhuban Pegu) के नेतृत्व में 25 गुंडों के एक समूह ने थौरा एलएसी (Thowra LAC) के पश्चिम पानी दिहिंग पंचायत के कोकिलामारी इलाके में हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं की पिटाई की है "।



रायजर दल (Raijor Dal) ने आगे आरोप लगाया कि भाजपा विधायक भुबन पेगू के 'गुंडों' ने थौरा से पार्टी के उम्मीदवार धैर्य कोंवर के पोस्टर और बैनर फाड़ दिए। रायजोर दल ने सत्तारूढ़ भाजपा (BJP) पर थौरा और मरियानी सीटों पर उपचुनाव (by-election) जीतने के लिए धन और बाहुबल का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें- केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने असम के उपचुनाव में BJP उम्मीदवार सुशांत बोरगोहेन के लिए किया प्रचार

अखिल गोगोई (Akhil Gogoi) ने कहा कि “उन्होंने हमारे उम्मीदवार धैर्य कोंवर के पोस्टर / बैनर भी फाड़ दिए। रायजोर दल के उदय से डरी हुई भाजपा अब केवल धन और बाहुबल के बल पर थौरा और मरियानी में उपचुनाव जीतने की आखिरी कोशिश कर रही है "।


उन्होंने यह भी कहा कि “हम मानते हैं कि BJP के गुंडों द्वारा हमारी एक साल पुरानी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर हमले साबित करते हैं कि सांप्रदायिक फासीवादी हमारी प्रगतिशील, जन-समर्थक राजनीति से भयभीत हैं। यह फासीवादी ताकतों की विभाजनकारी राजनीति के खिलाफ एक वैचारिक जीत है।" रायजर दल ने सत्तारूढ़ भाजपा पर 'निरंकुश' और 'जनविरोधी' होने का आरोप लगाया।


यह भी पढ़ें- गोसाईगांव LAC में राजनीतिक दलों का व्यापक प्रचार

उल्लेखनीय है कि असम की पांच विधानसभा सीटों पर 30 अक्टूबर को उपचुनाव होने हैं। असम की पांच विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले राजनीतिक दल मतदाताओं को लुभाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं।