मुंबई के कोलाबा में एक लडक़ी से रेप (Rape) के आरोपी को आखिरकार असम पुलिस (Assam Police) ने गिरफ्तार पर मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के हवाले कर दिया है। असम निवासी साजिद अहमद मजूमदार कोलाबा में एक लड़की के साथ कथित तौर पर रेप (Colaba girl rape case) करने के बाद फरार हो गया। हालांकि आरोपी को हैलाकांडी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और मुंबई पुलिस की अपराध शाखा (Mumbai crime branch) के अधिकारियों को सौंप दिया गया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार फरार बलात्कारी मजूमदार महाराष्ट्र के कोलाबा इलाके से पिछले दो साल से लापता था। कोलाबा मुंबई से लगभग 28 किलोमीटर दूर है। मजूमदार दो साल पहले मुंबई चला गया और एक निजी कंपनी में  काम करने लगा। वहीं लॉकडाउन के दौरान वह असम (Assam) लौट आया। इस बीच उसके खिलाफ कोलाबा थाने में रेप का मामला दर्ज कराया गया। मामला दर्ज (Rape case) होने के साथ ही मजूमदार कथित तौर पर लापता हो गया। मजूमदार दक्षिण असम के हैलाकांडी जिले के धनीपुर गांव (Dhanipur Village) का रहने वाला था। 

हैलाकांडी जिले के लाला थाने (Lala police station in Hailakandi district) में मौजूद मुंबई क्राइम ब्रांच के पुलिसकर्मियों ने बताया कि मजूमदार का कोलाबा की एक लडक़ी से अफेयर था। पुलिस ने कहा कि उसने शादी का वादा कर लडक़ी के साथ शारीरिक संबंध (Rape) बनाए। बाद में वह कथित तौर पर कोलाबा से भाग गया। हैलाकांडी के पुलिस अधीक्षक गौरव उपाध्याय ने बताया कि लाला थाना पुलिस ने छापेमारी कर उसे यहां से करीब 20 किलोमीटर दूर धनीपुर गांव से गिरफ्तार किया है। आरोपी मजूमदार को मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया है और उसे कोलाबा ले जाया जाएगा। इस बीच, मजूमदार ने बलात्कार के आरोप का खंडन किया और कहा कि उन्होंने उससे पैसे की मांग की और जब लडक़ी के परिवार ने इनकार किया तो उसके ऊपर कथित तौर पर बलात्कार का मामला दर्ज किया।