कोलकाता। आईपीएल 2022 का मंगलवार को क्वालीफ़ायर 1 खेला जाएगा जिसमें गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स की टीम फाइनल में जगह बनाने के लिए आमने-सामने होगी। ऐसे में दोनों टीमों का प्रयास यह रहेगा कि इस मैच को जीत कर फ़ाइनल का टिकट पक्का कर लिया जाए। 

यह भी पढ़े : Weekly Horoscope 22 -28 May 2022 : सूर्य के समान चमकेगा इन राशि वालों का भाग्य, वृश्चिक और धनु राशि वालों पर रहेगी विशेष कृपा


ट्रेंट बोल्ट ने मैथ्यू वेड को पांच पारियों में तीन बार आउट किया है। इस दौरान बोल्ट के खिलाफ वेड ने 23 गेंदों का सामना करते हुए 37 रन बनाए हैं। युजवेंद्र चहल ने छह पारियों में डेविड मिलर को तीन बार आउट किया है। वहीं अश्विन ने 14 पारियों में मिलर को तीन बार आउट किया। बटलर और रियान पराग को मोहम्मद शमी ने दो-दो बार आउट किया है जबकि हेत्माएर को उन्होंने चार पारियों में तीन बार आउट किया है। जॉस बटलर और शिमरॉन हेत्माएर को राशिद खान ने चार-चार बार आउट किया है जबकि अश्विन को राशिद ने तीन पारियों में दो बार आउट किया है। 

राजस्थान इस आईपीएल 2022 के लीग स्टेज में नंबर दो की टीम है। इससे पहले उन्होंने सिर्फ 2008 में अंक तालिका में दूसरे स्थान पर रहते हुए लीग स्टेज का समापन किया था। उस वर्ष राजस्थान की टीम आईपीएल की पहली ट्रॉफ़ी जीती थी। इसके बाद 2013, 2015 और 2018 में वह प्लेऑफ़ में पहुंचे थे लेकिन वह वे शीर्ष 2 में जगह नहीं बना पाए थे। अब एक बार फिर से उनकी टीम ने अंक तालिका में नंबर दो की टीम है तो क्या राजस्थान की टीम अपने 2008 वाले प्रदर्शन को दोहरा पाएगी? 

यह भी पढ़े :RBI Alert for Cyber Fraud : पुराने सिक्के और नोट ऑनलाइन बेचने से पहले सावधान , ठगी के हो सकते हैं शिकार

ऋद्धिमान साहा ने अब तक प्लेऑफ़ में कुल पांच मैच खेले हैं। इनमें उनका औसत 49.8 का है और उच्च स्कोर 115 का है। साथ ही इस दौरान उन्होंने 158 के स्ट्राइक रेट से कुल 199 रन बनाए हैं। इस आईपीएल में पावरप्ले में वह काफ़ी रन बटोर रहे हैं। उन्होंने नौ पारियों में 106 की औसत से पावरप्ले में कुल 212 रन बनाए हैं। राशिद खान का प्लेऑफ़ में प्रदर्शन भी काफ़ी बढिय़ा रहा है। उन्होंने सात प्लेऑफ़ के मैचों में सिर्फ 4.9 की इकॉनमी से रन खर्च करते हुए आठ विकेट लिए हैं। 

अश्विन प्लेऑफ़ में खेलने वाले सबसे ज्यादा अनुभवी खिलाड़ियों में से एक हैं। अश्विन ने प्लऑफ़ में अब तक कुल 20 मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 19 विकेट झटके हैं और 7.2 की इकॉनमी से रन खर्च किए हैं। प्लेऑफ़ में बोल्ट भी काफ़ी घातक हो जाते हैं। उन्होंने अपने द्वारा खेली गई सात प्लेऑफ़ के मैचों में 10 विकेट झटके हैं। गुजरात टाइटंस की टीम में इस सीजन में आठ अलग-अलग खिलाड़ियों ने प्लेयर ऑफ़ द मैच का खतिाब जीता है। सिर्फ गिल ही ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने दो बार प्लेयर ऑफ़ द मैच का खिताब जीता है। कुल मिला कर हर मैच को जिताने के लिए गुजरात की टीम से एक नया खिलाड़ी सामने आया है।