गुवाहाटी। कोविड-19 महामारी के बढ़ते मामले के मद्देनजर असम सरकार (Assam Government) ने बड़ा फैसला लिया है। इस बार 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस (Republic Day) के अवसर पर राज्य में सभी प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों, पुरस्कार वितरण समारोह और स्कूली बच्चों (School children) के भाग लेने पर प्रतिबंध लगाया है।

शुक्रवार को इस संबंध में एक आदेश जारी कर मुख्य सचिव जिष्णु बरुआ (Chief Secretary Jishnu Barua) ने कहा कि गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा, सम्मानित अतिथि का भाषण होगा और परेड होगी। लेकिन अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम, पुरस्कार वितरण इत्यादि कार्यक्रम आयोजित नहीं होंगे। यह फैसला राज्य कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए लिया गया है। वहीं, असम आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (Assam Disaster Management Authority) की ओर से जारी एक आदेश में कहा गया कि स्कूली बच्चे मार्च पास्ट या परेड में शामिल नहीं होंगे।

राज्य में बढ़ रहे कोरोना के मामले

बता दें कि असम में गुरुवार को कोरोना संक्रमण (corona in Assam) के 7,929 नए मामले सामने आए हैं वहीं पॉजिटिविटी रेट 12.92 फीसदी रही। कुल नए मामलों में से गुवाहटी शहर में 61,359 सेंपलों की जांच की गयी जिसमे से 1,716 मे संक्रमण की पुष्टि हुई। पिछले 24 घंटे में कोरोना की चपेट में आकर 12 लोगों की मौत हो गयी और इसी दौरान असम में रिकवरी रेट 92.81 फीसदी रही।