बिहार के अलग-अलग हिस्‍सों में कम उम्र की लड़कियों को बहला-फुसलाकर अनैतिक काम (sex racket) में उतारने का सिलसिला जारी है। ऐसी ही एक सूचना पर दिल्‍ली पुलिस और सारण पुलिस की संयुक्‍त टीम ने सारण जिले के जलालपुर में छापेमारी की तो वहां का नजारा देखकर हैरान रह गई। यहां एक घर से असम, पश्‍च‍िम बंगाल और पंजाब की नौ लड़कियों को बरामद किया गया। बताया जा रहा है कि इनमें से कई नाबालिग हैं। इन लड़कियों को आर्केस्‍ट्रा में काम के नाम पर लाया गया था। ऐसी ही एक कार्रवाई पूर्वी चंपारण में भी की गई है।

दिल्ली पुलिस ने सारण पुलिस के सहयोग से शनिवार को छापेमारी कर नौ नाबालिग लडकियों का रेस्क्यू कर आर्केष्ट्रा संचालकों से मुक्त कराया। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो के निर्देश पर एसपी सारण द्वारा टीम गठित करके बच्चियों का रेस्क्यू किया गया। इसके लिए जनता बाजार और जलालपुर में छापेमारी की गई। बताया गया कि जलालपुर-कोपा रोड के दो आर्केष्ट्रा संचालक इस मामले में गिरफ्तार किए गए हैं।

अमनौर थाना क्षेत्र के एक गांव में शादी की नीयत से एक युवती को अगवा कर लेने का मामला सामने आया है।  इस मामले में युवती की मां अमनौर थाना में प्राथमिकी भी दर्ज कराई है। बताया है कि प्रतिदिन की तरह मेरी बेटी परशुरामपुर हाईस्कूल पढऩे गई थी ।  देर शाम वह लौटकर घर नहीं आई तो हम सभी परेशान होकर  खोजबीन करने लगे। इस मामले में  परशुरामपुर गांव के युवक सहित दो को आरोपित किया है।

छपरा जंक्शन पर विशेष चेकिंग के दौरान प्लेटफार्म संख्या तीन के पश्चिमी छोर से बनियापुर थाना क्षेत्र के कन्हौली गांव निवासी धनधन प्रसाद के पुत्र चंदन प्रसाद को एक ब्लू रंग का बैग में छुपा कर रखे अंग्रेजी शराब की 92  बोतल के साथ गिरफ्तार किया गया । बरामद शराब की कुल मात्रा 16. 56 लीटर बताई गई।