दिल्ली के कालिंदी कुंज (Delhi's Kalindi Kunj) में पूर्वोत्तर राज्य (northeastern states) की रहने वाली किशोरी(17) के साथ सामूहिक दुष्कर्म होने का मामला सामने आया है। इतना ही नहीं किशोरी को जबरदस्ती शादी करने के लिए मजबूर किया गया। किशोरी ने शादी का विरोध किया तो उसके साथ घर में सामूहिक दुष्कर्म किया गया। 

कालिंदी कुंज थाना पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म, छेड़छाड़ व जान से मारने की धमकी देने आदि धाराओं में मामला दर्जकर दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पति समेत फरार तीन आरापियों की तलाश की जा रही है। 

दक्षिण-पूर्व जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार गुवाहाटी, असम (Assam) की रहने वाली 17 वर्षीय किशोरी अपने चाचा के साथ दो दिन पहले कालिंदी कुंज थाने में पहुंची थी। किशोरी ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में कहा था कि मदनपुर खाद में रहने वाले मधु, मनुवर हुसैन, अरिफुल और नीलचंद उर्फ बदशाह ने घर में बंद कर उसके साथ सामूहिक रूप से दुष्कर्म किया गया। 

सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम आरोपी मधु व मनुवर हुसैन के पिता नूर अख्तर के घर में दिया गया। दोनों आरोपी सगे भाई हैं। किशोरी ने शिकायत में ये भी कहा गया है कि उसे मधु के साथ शादी करने के लिए मजबूर किया गया। किशोरी की शिकायत पर छेड़छाड़, दुष्कर्म व पोक्सो आदि धाराओं में मामला दर्ज किया गया। मेडिकल जांच में किशोरी के साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि हो गई है। 

कालिंदी कुंज थाना पुलिस ने नीलचंद(32) और नूर अख्तर (53) को गिरफ्तार किया कर लिया है।  पुलिस किशोरी के पति समेत तीन आरोपियों की तलाश कर रही है। बताया जा रहा है कि ये आरोपी असम फरार हो गए हैं। सभी आरोपी असम के रहने वाले हैं और मधु के रिश्तेदार बताए जा रहे हैं। 

बताया जा रहा है कि आरोपियों ने किशोरी की मधु से जबरदस्ती शादी करवा दी थी।  किशोरी ने शादी करने से इंकार कर दिया तो उसे साथ वारदात को अंजाम दिया गया। इस वारदात के बाद किशोरी डिप्रेशन में चली गई है। उसकी काउंसलिंग कराई गई है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार जिस तरह शादी कराई है वह मान्य नहीं है। साथ ही पीड़ित किशोरी बालिग है।