पिछले साल पहले Covid-19 लॉकडाउन से 12 महीने की अवधि में, 12 केंद्रीय मंत्रियों या उनके परिवार के सदस्यों ने असम (Assam) से तमिलनाडु (Tamilnadu) तक कृषि और गैर-कृषि भूमि और दिल्ली में एक अपार्टमेंट सहित देश भर में प्रॉपर्टी खरीदी। खबर के मुताबिक, ये जानकारी प्रधान मंत्री कार्यालय (PMO) की वेबसाइट पर उनकी तरफ से की गई घोषणा से मिली है।

78 सदस्यीय मंत्रिपरिषद में, जिन्होंने वित्त वर्ष 2020-21 में प्रॉपर्टी की खरीद की घोषणा की, उनमें तीन कैबिनेट मंत्री शामिल हैं, ये हैं विदेश मंत्री एस जयशंकर (External Affairs Minister S Jaishankar), महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी Women and Child Development Minister Smriti Irani), ​​और जहाजरानी और आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल (Shipping and AYUSH Minister Sarbananda Sonowal)। इनमें नौ राज्य मंत्री भी शामिल हैं।

कुल मिलाकर, 12 मंत्रियों द्वारा अप्रैल 2020 से PMO की वेबसाइट पर कुल 21 प्रॉपर्टी खरीद की घोषणा की गई, जिसमें सात कृषि भूमि शामिल हैं। केंद्रीय मंत्री ईरानी और पांच राज्य मंत्रियों ने अपने-अपने लोकसभा क्षेत्रों में संपत्ति खरीदी।

12 मंत्रियों के अलावा, कैबिनेट मिनिस्टर गिरीराज सिंह और उनकी पत्नी ने इस दौरान अपनी दो प्रॉपर्टी बेची। जिनकी कीमत प्रॉपर्टी की लागत से 4 गुना और 6 गुना तक ज्यादा थी।

जयशंकर (jaishankar) ने अपनी घोषणा में दक्षिण दिल्ली के वसंत विहार में 3.87 करोड़ रुपए में 3,085.29 वर्ग फुट की दूसरी मंजिल का अपार्टमेंट खरीदने की जानकारी दी। इसमें खरीद की तारीख 8 अगस्त, 2020 दिखाई गई है, और प्रॉपर्टी उन्होंने अपने और अपनी पत्नी के नाम पर खरीदी है।

ईरानी की घोषणा में UP के लोकसभा क्षेत्र अमेठी में एक प्रॉपर्टी की खरीद की जानकारी है, जहां उन्होंने 2019 में चुनाव जीता था। ईरानी ने 19 फरवरी, 2021 को मेदान मवई गांव में 12.11 लाख रुपए के "वर्तमान मूल्य" पर 0.1340 हेक्टेयर जमीन खरीदी।

सोनोवाल (sonowal) ने इस साल फरवरी में डिब्रूगढ़ में तीन संपत्तियों की खरीद की सूचना दी, जब वह असम के मुख्यमंत्री थे। एक महीने बाद, असम में BJP ने सत्ता बरकरार रखी और सोनोवाल की जगह हेमंत बिस्वा सरमा (Himanta biswa sarma) को मुख्यमंत्री बनाया। 7 जुलाई, 2021 को, सोनोवाल को केंद्रीय मंत्रिमंडल में बंदरगाह, नौवहन और जलमार्ग और आयुष मंत्री के रूप में शामिल किया गया था।

सोनोवाल की घोषणा से पता चलता है कि उन्होंने मनकोट्टा खनिकर मौजा में तीन पर्सनल जमीन 6.75 लाख रुपए (1 फरवरी), 14.40 लाख रुपए (23 फरवरी) और 3.60 लाख रुपए (25 फरवरी) में खरीदी थी।

ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj singh) की घोषणा से पता चलता है कि उन्होंने 2 फरवरी, 2021 को पटना के शिवम अपार्टमेंट में अपना 650 वर्ग मीटर का फ्लैट 25 लाख रुपए में बेच दिया। पिछले साल की घोषणा में, उन्होंने "संपत्ति की लागत" को करीब 6.5 लाख रुपए के रूप में दिखाया था।

सिंह की पत्नी उमा सिन्हा ने अपनी एक प्रॉपर्टी - झारखंड के देवघर में 1,087 वर्ग मीटर का घर - 45 लाख रुपए में बेच दी। PMO की वेबसाइट में वर्तमान में 2013-14 से केंद्रीय मंत्रियों की संपत्ति और देनदारियों की घोषणा शामिल है।