असम के पूर्व मुख्यमंत्री भूमिधर बर्मन का रविवार को लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। उनके परिजनों ने कहा कि 91 वर्षीय बर्मन का निधन रविवार शाम को यहां एक निजी अस्पताल में हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है। असम सरकार ने बर्मन के निधन पर राज्य में तीन दिन के शोक की घोषणा की है। सरकार ने कहा है पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। वरिष्ठ कांग्रेस नेता बर्मन दो बार असम के मुख्यमंत्री रहे।

वह पहली बार 1996 में 22 अप्रैल से 14 मई तक उस वक्त राज्य के मुख्यमंत्री बने जब तत्कालीन मुख्यमंत्री हितेश्वर सैकिया का निधन हो गया था। दूसरी बार उन्हें 2010 में मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के दिल के ऑपरेशन के लिए मुंबई जाने के कारण मुख्यमंत्री बनाया गया था।

 बर्मन दोनों की मुख्यमंत्रियों की कैबिनेट में मंत्री रहे थे। सात बार विधायक रहे बर्मन पहली बार 1967 में विधानसभा के लिए चुने गए थे। पेशे से डॉक्टर बर्मन 1958 में डिब्रूगढ़ मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री ली थी।