डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय (Dibrugarh University) के भौतिकी विभाग में सहायक प्रोफेसर डॉ. बिनीता पाठक (Dr. Binita Pathak, an Assistant Professor at Department of Physics) को विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) के एक वैधानिक निकाय, विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड द्वारा आयोजित प्रतिष्ठित 'एसईआरबी- महिला उत्कृष्टता पुरस्कार 2022' (SERB – Women Excellence Award 2022) के लिए चुना गया है।

बता दें कि पाठक डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय से पहले व्यक्ति हैं जिन्हें इस सम्मान के लिए चुना गया है। उन्हें इस से पहले 2020 में प्रतिष्ठित इंडियन एकेडमी ऑफ साइंसेज (IASc), बैंगलोर द्वारा एसोसिएटशिप के लिए चुना गया था।

असम के शिक्षा मंत्री रनोज पेगू ने भी ट्विटर पर सहायक प्रोफेसर को बधाई दी। उन्होंने ट्वीट किया, 'डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय के भौतिकी विभाग की सहायक प्रोफेसर डॉ. बिनीता पाठक को विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड के महिला उत्कृष्टता पुरस्कार 2022 के लिए चयनित होने पर हार्दिक बधाई।'

पेगु ने आगे कहा, 'यह पुरस्कार युवा महिला वैज्ञानिकों को प्रदान किया जाता है जिन्होंने अनुसंधान उत्कृष्टता के लिए क्षमता का प्रदर्शन किया है।'

SERB Women Excellence Recognition विज्ञान और इंजीनियरिंग के अग्रणी क्षेत्रों में अच्छा काम करने के लिए साल 2013 में इस पुरस्कार को शुरू किया गया।

बता दें कि SERB महिला उत्कृष्टता पुरस्कार 40 वर्ष से कम उम्र की महिला वैज्ञानिकों को दिया जाने वाला पुरस्कार है जो किसी भी व्यक्ति को एक बार ही दिया जाता है। 

पाठक के अलावा, डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय में गणित विभाग के प्रमुख और सहयोगी प्रोफेसर डॉ. अंकुर भराली को भारत सरकार के विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा अनुसंधान उत्कृष्टता (टीएआरई) से दिसंबर 2021 में सम्मानित किया गया था।