गुवाहाटी: असम के विद्रोही संगठन दिमासा नेशनल लिबरेशन आर्मी (डीएनएलए) ने शुक्रवार को एकतरफा संघर्ष विराम को छह महीने के लिए और बढ़ा दिया। समूह के अध्यक्ष ने असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा को एक पत्र लिखा है।  जिसमें संगठन की इच्छा युद्धविराम समझौते की अवधि को और छह महीने तक बढ़ाने की इच्छा व्यक्त की गई है।

यह भी पढ़े : LPG Price Today 1 Oct : दिवाली से पहले खुसखबरी , सस्ता हो गया एलपीजी गैस सिलेंडर, चेक करें आज का भाव


छह महीने की अवधि 31 मार्च, 2023 को समाप्त होगी। अध्यक्ष ने पत्र में लिखा है कि शांति, वार्ता और विकास हासिल करने के लिए उन्होंने संघर्ष विराम को बढ़ाने का फैसला किया।

इससे पहले सितंबर 2021 में, डीएनएलए ने दीमा हसाओ और कार्बी आंगलोंग जिलों में शांति के लिए सरमा की अपील के जवाब में सद्भावना संकेत के रूप में छह महीने के लिए एकतरफा युद्धविराम की घोषणा की। एक सशस्त्र आंदोलन के माध्यम से दिमासा लोगों के लिए संप्रभुता की तलाश के लिए अप्रैल 2019 में आतंकवादी संगठन का गठन किया गया था।

यह भी पढ़े :  Shanidev: धनतेरस के दिन इन 5 राशियों को होगा महा लाभ, आर्थिक उन्नति का मौका मिलेगा 


संगठन की असम के दीमा हसाओ और कार्बी आंगलोंग जिलों और नागालैंड के कुछ हिस्सों में भी सक्रिय उपस्थिति है।