भारत में घूमने वाली जगहों की कोई कमी नहीं है। यहां एक से बढ़कर एक खूबसूरत गांव और शहर हैं, जहां की प्राकृतिक सुंदरता मन को भा जाती है। ऐसा ही एक शहर है डिब्रूगढ़, जो असम में है। ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे बसा हुआ यह एक एतिहासिक शहर है। यह पर्यटन के लिहाज से बेहद ही महत्वपूर्ण जगह है।


अहोम भाषा की बुरंजी एतिहासिक कृतियों में इस शहर का नाम ती-फाओ दिया गया है, जिसका अर्थ होता है 'स्वर्ग-स्थल'। डिब्रूगढ़ में सालों भर एक सुखद मौसम रहता है। यही वजह है कि यहां हर समय पर्यटकों का आना-जाना लगा रहता है। यहां का शांत सुकून देने वाला वातावरण इसे असम का सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थल बना देता है।


डिब्रूगढ़ को लोग 'टी सिटी ऑफ इंडिया' के नाम से भी जानते हैं। पूरे शहर में चाय के कई बागान हैं, जो अंग्रेजों के जमाने से हैं। यहां चाय के बागान देखने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं। आपको बता दें कि असम की चाय दुनियाभर में मशहूर है।


डिब्रूगढ़ में देहिंग पटकाई वन्यजीव अभयारण्य घूमने लायक जगह है। हालांकि इस अभयारण्य का कुछ हिस्सा तिनसुकिया जिले में भी पड़ता है। देहिंग पटकाई असम का एकमात्र वर्षावन है। अगर आप डिब्रूगढ़ घूमने जा रहे हैं, तो देहिंग पटकाई जाना न भूलें।


डिब्रूगढ़ में जोकाई बोटैनिकल गार्डन नाम का एक बेहद ही खूबसूरत उद्यान है, जो दुर्लभ और विलुप्त हो चुकी वनस्पतियों की प्रजातियों को जीवंत रखने का काम करता है। अगर आप प्रकृति प्रेमी हैं, तो आपको यहां एक बार तो घूमने जरूर आना चाहिए। 


इस शहर में कई शानदार मंदिर भी हैं, जो पर्यटकों को अपनी आकर्षित करते हैं। यहां का सबसे प्रसिद्ध मंदिर जगन्नाथ मंदिर है, जो ओडिशा के पुरी में स्थित भगवान जगन्नाथ के विश्व प्रसिद्ध मंदिर की तरह ही बनाया गया है। अगर आप पुरी नहीं जा पाए हैं तो डिब्रूगढ़ जाकर भगवान जगन्नाथ का मंदिर देख सकते हैं।