केन्द्र सरकार ने असम से अगले वर्ष जनवरी से जुलाई के बीच कोरोना वायरस (कोविड-19) के टीकाकरण के तैयार रहने को कहा है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हिमंत बिस्वा सरमा ने संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी देते हुए बताया कि केंद्र के साथ उनकी हाल की बैठकों में कोरोना टीकाकरण प्रक्रिया पर अधिक ध्यान केन्द्रित किया गया। 

उन्होंने कहा केन्द्र ने हमें अगले वर्ष जनवरी से जुलाई के बीच टीकाकरण कार्यक्रमों के लिए तैयार रहने को कहा है। सरमा ने कहा कि केन्द्र को छह से सात स्रोतों से टीके मिलने की उम्मीद है और यह देश में एक ही ब्रांड के वैक्सीन नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि टीकाकरण में कोराना योद्धाओं और 60 साल से अधिक की उम्र वाले व्यक्तियों को प्राथमिकता दी जाएगी। 

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच में तेजी एवं समुचित उपचार से इस बीमारी से मुक्त होने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है और पिछले 10 दिनों में प्रतिदिन 75-80 हजार से अधिक मरीज स्वस्थ हुए हैं, जबकि इसकी तुलना में नये मामलों में कमी आयी है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 77,760 कोरोना संक्रमितों के स्वास्थ्य में सुधार हुआ , जिन्हें विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गयी। 

देश में अब तक 62,27,295 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। इसी अवधि में 55,342 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद संक्रमण का आंकड़ा 71,75,880 हो गया। पिछले 24 घंटों के दौरान 706 संक्रमित अपनी जान गंवा बैठे और इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 1,09,856 हो गयी है। कोरोना संक्रमण के नये मामलों में कमी आने के कारण सक्रिय मामले 23,124 घटकर 8,38,729 हो गये। देश में अभी सक्रिय मामलों का प्रतिशत 11.69 और रोगमुक्त होने वालों की दर 86.78 प्रतिशत है जबकि मृत्यु दर 1.53 फीसदी रह गयी है।