देश भर में पिछले 24 घंटे में 49,769 कोरोना संक्रमितों के रोगमुक्त होने से कोरोना रिकवरी दर बढ़कर 67.98 प्रतिशत हो गयी है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक देशभर में छह अगस्त को कुल 49,769 कोरोना संक्रमित ठीक हुए, जिससे रिकवरी दर बढ़कर 67.98 प्रतिशत हो गयी है। 

मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक पूरे देश में 13,78,105 कोरोना संक्रमित रोगमुक्त हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान देश में संक्रमण के रिकॉर्ड 62,538 नये मामले सामने आए, लेकिन इसी अवधि में 49,769 संक्रमित रोगमुक्त हुए और 886 मरीजों की मौत भी हुई, जिससे देश में कोरोना के सक्रिय मामले में मात्र 11,883 की बढ़ोतरी हुई और यह आंकड़ा बढ़कर 6,07,384 हो गया। संक्रमणमुक्त मरीजों तथा संक्रमण के सक्रिय मामलों की संख्या का फासला बढ़कर अब 7.7 लाख से अधिक हो गया है। छह अगस्त को सबसे अधिक कोरोना संक्रमित महाराष्ट्र में स्वस्थ हुए हैं। राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान महाराष्ट्र में 10,854 कोरोना संक्रमित रोगमुक्त हुए हैं। 

इसके अलावा आंध्रप्रदेश में 8,516, तमिलनाडु में 6,272, कर्नाटक में 5,602, उत्तर प्रदेश में 2,844, पश्चिम बंगाल में 2,061, असम में 1,332, राजस्थान में 1,282, ओडिशा में 1,150, तेलंगाना में 1,136, बिहार में 1,123, दिल्ली में 1,008, गुजरात में 917 , झारखंड में 891, मध्य प्रदेश में 838, केरल में 800, , हरियाणा में 734, मध्यप्रदेश में 680 और जम्मू कश्मीर में 464 कोरोना संक्रमित स्वस्थ हुए हैं। मंत्रालय का कहना है कि कोरोना मरीजों की रिकवरी दर में तेजी और मृत्यु दर में कमी की उपलब्धि के साथ भारत कोविड-19 के प्रबंधन के पथ पर अग्रसर है। 

अस्पताल से संबंधित आधारभूत ढांचे की मजबूती और केंद्र द्वारा जारी क्लीनिकल ट्रीटमेंट प्रोटाकॉल के तहत कोरोना संक्रमण के कारण भर्ती मरीजों के प्रभावी ईलाज से रिकवरी दर में सुधार सुनिश्चित हुआ है। कंटेनमेंट जोन चिह्नित करने, जांच गति तेज करने और हल्के लक्षणों वाले कोरोना संक्रमितों की होम आइसोलेशन में निगरानी तथा प्रभावी उपचार की दिशा में केंद्र और राज्य तथा केंद्र शासित प्रदेशों के आपसी समन्वय और सतत प्रयासों से कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामलों का प्रतिशत घट रहा है और कोरोना मुक्त मामलों का प्रतिशत बढ़ रहा है।